इंसानियत हुई शर्मसार-मीरजापुर

छानबे नवरात्र के अवसर पर लोग अपने अपने घरों में देबी स्थापित कर पूजा पाठ करते है। परंतु घर मे आई लक्ष्मी को वेरहम माता ने घर से निकाल कर फेंक दिया कि मर जाय । परन्तु उसकी जिंदगी मौत को भी पछाड़ दिया ईश्वर ने उसकी जिंदगी बचाने के लिए कमला देबी को भेज दिया । जिगना थाना क्षेत्र के कुशहा गांव के समीप रविवार की भोर गांव की एक महिला कमलादेवी को बच्चे की रोने की आवाज सुनी और पास जाकर देखा और उठा लिया और 100नम्बर पर काल किया ।बहरहाल 108नम्बर से प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सर्रोई ले जाया गया जहां पर चिकित्सक नरेंद्र कुमार प्राथमिक इलाज के बाद बेहतर इलाज के लिए मंडलीय अस्पताल भेज दिया ।डाक्टर ने बताया कि शिशु की पैदाइश दो दिन पूर्व की है और स्वस्थ है ।नवजात शिशुअब चाइल्ड लाइन की देख रेख में जिला अस्पताल में है।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.