: मिर्ज़ापुर ग्राम प्रधान संघ के जिला अध्यक्ष अखिलेश सिंह ने कई ग्राम प्रधानो के साथ जिलाधिकारी से मिलकर रेलवे स्टेशन पर तैनात RPF के एक S.I. के खिलाफ प्रार्थना पत्र देते हुए अपील किया की ग्राम प्रधान महड़ौरा के प्रधान को RPF के एक S.I. के द्वारा मारा पीटा गया ।जिससे समस्त प्रधानो में उक्त पुलिसकर्मी के खिलाफ आक्रोश है ।पीड़ित ग्राम प्रधान ब्रजमोहन ने बताया की S.I. के द्वारा तीन लड़को को मारा पीटा जा रहा था ।जब हमने मौके पर अपना परिचय देते हुए जानना चाहा की मारपीट क्यों हो रहा है तो इतने में उक्त S.I. के द्वारा मेरे साथ दुर्व्यवहार किया गया व् मारा पीटा गया ।
: जब इस बावत RPF में तैनात S.I. से बातचीत किया गया तो उन्होंने बताया की तीन लड़के जिनका उम्र लगभग 14 से 15 साल के बीच था इन तीनो को गिरफ्तार करके 3-RP एक्ट व् 174-C के तहत गिरफ्तार करके जेल भेजा गया है ।
इन तीनो लड़को के द्वारा महड़ौरा रेलवे लाइन से तांबे का तार चोरी किया गया था ।जिसके पास से लगभग 15 मीटर तार जिसकी कीमत लगभग 7000 रु. की थी व् साथ में उदय बहादुर सिंह को चोरी का माल खरीदने के जुर्म में ,जिसकी दूकान विराहा पर स्थित है ,5 मीटर तांबे के तार के साथ चालान करके जेल भेजा गया है । S.I. ने बताया की तार काटने की वजह से सिग्नल प्रभावित होता है ।जिससे रेलवे की भारी क्षति होती है ।इन घटनाओं की वजह से महड़ौरा में यह अभियान चलाया गया था ।
हो सकता है इससे शिकायतकर्ता को नागवार लगी हो लेकिन इतनी बड़ी चोरी की घटना को रोकना व् उसका पर्दाफाश करना हमारी जिम्मेदारी है ।तो वंही ग्राम प्रधान के अध्यक्ष अखिलेश सिंह ने ग्राम प्रधान महड़ौरा के साथ RPF के S.I. के द्वारा दुर्व्यवहार किये जाने की घटना को गम्भीरता से लेते हुए बताया की एक विकलांग प्रधान के ऊपर पुलिस का यह व्यवहार अशोभनीय है ।हम प्रशासन व् रेलवे के उच्च अधिकारीयों से मांग करते है की ऐसे पुलिसकर्मी को कड़ी से कड़ी सजा दी जाय ।