समस्त खातों का संचालन पर तत्काल रोक लगाई जानी चाहिए -चन्द्रभूषण उपाध्याय

मिर्ज़ापुर श्री गांधी विद्यालय इंटर कॉलेज में वित्तीय अनियमितता का आरोप लगाते हुए पूर्व प्रबंधक चन्द्रभूषण उपाध्याय ने कहा कि अनियमितता में संलिप्त लोगों के विरुद्ध जांच कराके विधि संवत कार्यवाही की जाय ।पूर्व प्रबंधक का आरोप है कि नियमावली के विरुद्ध नए चेक बुक इशू कराना और उसपर संयुक्त हस्ताक्षर के बिना कुल 5 बार बैंक से लेनदेन किया गया ।बताया गया कि विद्यालय नियमावली के अनुसार किसी भी चेक को एक्जिक्यूट कराने के लिए उसपर संयुक्त रूप से विद्यालय के प्रधानचार्य व प्रबंधक का हस्ताक्षर होना चाहिए था,ओर साथ ही साथ बैंक से नया चेक बुक इशू कराने के लिए भी संयुक्त हस्ताक्षर की बाध्यता की गई है। परंतु न सिर्फ एकल हस्ताक्षर से चेक बुक ही निकल गया अपितु बिना संयुक्त हस्ताक्षर के कई बार चेक का प्रयोग भी किया गया ।जबकि कोर्ट के आदेश के चलते उपरोक्त विद्यालय में इस दौरान कन्ट्रोलर नियुक्त किया गया था ।बतौर कन्ट्रोलर GIC अदलपुरा ,मिर्ज़ापुर के हरिगेन्द्र कुशवाहा की नियुक्ति हुई थी ।पूर्व प्रबन्धक चन्द्रभूषण उपाध्याय ने इस प्रकरण को घोर अनियमितता मानते हुए कहा कि जब तक इस मामले की जांच व कार्यवाही के उपरांत दोषियों के विरुद्ध सजा नही हो जाती तब तक समस्त खातों का संचालन पर तत्काल रोक लगाई जानी चाहिए ।फिलहाल इस सारे प्रकरण के लिए विद्यालय के प्रधानाचार्य ने महाप्रबन्धक जिला सहकारी बैंक को घोर आपत्ति लगाते हुए जांच के लिए लिखा है ।वित्तीय लेनदेन संवेदनशील मामला होता है ,परन्तु आरोप के मुताबिक यह ट्रांजेक्शन बैंक को भी कटघरे में खड़ा कर सकता है ।बिना संयुक हस्ताक्षर के एक बार नही 5 बार चेक इस्तेमाल किया गया है ।जो कि जांच का विषय है ।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.