समाचारछात्राओं की बीमारी को विद्यालय प्रशासन क्यों दबाना चाहता था-?

छात्राओं की बीमारी को विद्यालय प्रशासन क्यों दबाना चाहता था-?

MIRZAPUR-मड़िहान
अभिभावकों की सूचना पर इलाज करने पहुँची थी स्वास्थ्य बिभाग की टीम
तहसील स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय आश्रम पद्धति वालिका विद्यालय में बीमार छात्राओं ने मुलाकात में परिजनों से बताया था कि छात्राएं चार दिनों से बीमार चल रही हैं।मागने के बावजूद विद्यालय की स्टापनर्स दवा नही दे रही हैं।दिन पर दिन छात्राओं की तबियत बिगड़ रही है।बीमार बालिकाओं की बीमारी को लेकर चिंतित परिजनों ने बालिकाओं के इलाज की जानकारी सीएचसी के डॉक्टरों को दे दिया।चिकित्सकों की टीम बीमार बालिकाओं के इलाज के लिए विद्यालय पहुँची तो सबसे पहले विद्यालय की अध्यापिका से हुआ।अध्यापिका ने डॉक्टरों से ही सवाल खड़ा कर दिया कि यहाँ तो कोई बीमार नही है।चिकित्सक टीम को अंदर जाने से मना कर दिया।अध्यापिका व टीम की बातचीत में अंदर जानकारी हुयी तो बीमार छात्राएं बाहर निकल कर चिकित्सक टीम से दवा की मांग करने लगी।धीरे धीरे बीमार छात्राओं का हुजूम स्कुल के बरामदे में इकठ्ठा हो गया।अन्य कर्मचारियों के सहयोग से हास्टल में बीमार बालिकाओं का इलाज शुरू किया जा सका।गंभीर 22छात्राओं को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मड़िहान में भर्ती कराया गया।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं