भाजपा नेता की पत्नी के जिम्मे भोजन व्यवस्था पर सवाल

मिर्ज़ापुर जिले के मड़िहान और विंध्याचल के परसिया गाँव में संचालित आश्रम पद्धति विद्यालयों में काम कर रहे सिंडिकेट की परते खुलने लगी है । जिले में एक भाजपा नेता की पत्नी को दोनों विद्यालयों में भोजन की व्यवस्था करने का टेंडर मिला है । बावजूद इसके घटिया भोजन और उसमे छिपकली गिरने जैसी घटनाये कई गम्भीर सवाल खड़े करती है । चर्चा तो यंहा तक है की दोनों विद्यालयो की घटनाएं धेकेदारी पाने की होड़ का हिस्सा है ।डीएम ने मामले की जांच शुरू कर दी है । समाज कल्याण विभाग की देखरेख में चलने वाले आश्रम पद्धति के दोनों विद्यालयों में आवासीय व्यवस्था है ।यंहा रहकर पढ़ाई करने वाले जरूरतमन्द परिवारों के छात्र छात्राओं की सरकार पूरी मदद करती है । उन्हें कॉपी किताब ,साबुन ,तेल , कंघी , शीशा तक दिया जाता है ।घटना इतनी खतरनाक हो सकती थी यदि प्रशासन तुरंत हरकत में न आता लेकिन ये घटना दुबारा न हो इसकी गारंटी कौन लेगा | इस पर सरकार हर साल लगभग तीन करोड़ रूपये खर्च करती है ।बावजूद इनके विद्यालयों में अध्ययन अध्यापन की स्थिति बेहद दयनीय है । पिछले दिनों तीन दिन के अंतर पर दोनों विद्यालयों में दूषित भोजन के कारण बच्चों में बीमार होने पर हड़कम्प मच गया ।डीएम की जांच में दोषी पाये जाने वालो के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी ।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.