सपा नेता ने मचाया बवाल, खोली चुनाव व्यवस्था की पोल

बूथ के अंदर हस्ताक्षर करते और चेयरमैन व सभासद पद के साईकिल पर मोहर लगे बैलट पेपर को सोशल मीडिया पर किया वायरल 
ब्यूरो रिपोर्ट, मिर्जापुर।

       समाजवादी पार्टी मे विधानसभा से लेकर नगर निकाय चुनाव मे पार्टी को मजबूती लाने मे जुटे चिकित्सक जैसे जिम्मेदार और समझदार पद पर रहते हुए सपा नेता अरविंद श्रीवास्तव ने बुधवार को नगर निकाय चुनाव के दौरान ऐसी हरकत कर दी कि उन्हे आचार संहिता उल्लंघन की कार्रवाई झेलनी पडी। दरअसल अरविंद श्रीवास्तव ने बूथ के अंदर हस्ताक्षर करते और चेयरमैन व सभासद पद के साईकिल पर मोहर लगे बैलट पेपर को सोशल मीडिया बूथ के अंदर हस्ताक्षर करते और चेयरमैन व सभासद पद के साईकिल पर मोहर लगे बैलट पेपर को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। 

                बताया दे कि अरविंद श्रीवास्तव द्वारा सोशल मीडिया पर वायरल किये गये तीन फोटो है। जिसमे उन्होने मतदान केन्द्र मे प्रवेश के रास्ते पर खडे होकर अंगुली मे लगे वोट डालने की स्याही सहित फोटो, मतदान केन्द्र के अंदर पीठासीन अधिकारी के पास खडे होकर पर्ची देते हुए और सबसे आश्चर्य कि बात यह है कि उन्होने मतदान करते समय अपने बैलट पेपर के हरे पेपर क्रमांक 25624 तथा लाल पेपर के क्रमांक अपठनीय के बैलट पेपर पर साईकिल चुनाव चिन्ह पर मुहर लगाकर बाकायदा उसका फोटो खीचा और संभवतः मतदान केन्द्र से बाहर निकलते ही ये सारे फोटो सोशल मीडिया पर वायरल करते हुए वोट एन सपोर्ट फार साईकिल लिखकर भेज दिया। 

           इस बाबत बात किये जाने पर जिलाधिकारी बिमल कुमार दूबे से बात किये जाने पर कहाकि आचार संहिता का खुला उल्लंघन करने वाले अरविंद श्रीवास्तव के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। 

           हो सकता है कि सपा नेता द्वारा जिम्मेदार पद पर होते हुए ऐसा कार्य करते समय उन्होंने खुद को सपा का सच्चा सिपाही साबित करने और अपील मे चार चाद लगाने के लिए ऐसा किया हो, लेकिन सवाल यह खडा होता है कि नगर निकाय चुनाव मे सीसीटीवी, और रिकार्डिंग के साथ ही बूथ के अंदर मोबाईल ले जाना पूरी तरह से प्रतिबंधित किये जाने के बाद भी वे मोबाईल लेकर अंदर कैसे प्रवेश कर गये। क्या उन्हे सुरक्षाकर्मियो द्वारा रोका नही गया। यदि ऐसा नही किया गया तो यह नगर निकाय चुनाव की व्यवस्था देख रहे जिमेदारो पर सवाल खडा करता है।  

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.