मरीज को खोजा जा रहा है -MIRZAPUR

9453821310-आज मिर्जापुर में जिलाधिकारी विमल कुमार दुबे मुख्य चिकित्सा अधिकारी व अन्य स्वास्थ्य अधिकारियों व कर्मचारियों ने टीबी बीमारी की रोकथाम के लिए व लक्षणों के बारे में एक वृहद कार्यक्रम का आयोजन किया जिसमें लोगों को बताने का भरसक प्रयास किया गया कि टीबी बीमारी समय रहते ठीक किया जा सकता है उसके लक्षणों के बारे में चिकित्सा अधिकारी के अलावा जिलाधिकारी ने बताया व मीडिया के माध्यम से लोगों को जागरुक करने का प्रयास किया |बताया गया कि अब स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी लोगों के इलाके में जा जाकर यह जानने की कोशिश करेंगे कि किन व्यक्तियों के लक्षण टीवी बीमारी के लक्षण से मिलते हैं इस बीमारी से ग्रसित लोगों को चिन्हित किया जाएगा ताकि उनका इलाज किया जा सके |बताते चले की इस बीमारी के लिए,सरकार की तरफ से निशुल्क सुविधाएं मुहैया कराई जा रही हैं ताकि ऐसे रोगियों को तत्काल सरकारी सहायता और सरकारी व्यवस्था पर निशुल्क इलाज कराया जा सके सरकार के इस प्रयास से वो मरीज जो अभी भी भय की वजह से डर की वजह से लोक लज्जा की वजह से अस्पताल जाने से बचते रहे हैं उनको स्वास्थ्य विभाग ढूंढ़ निकालेगा मिर्ज़ापुर के स्वास्थ्य विभाग का मानना है स्वस्थ व्यक्ति ही स्वस्थ समाज का निर्माण कर सकता है इसलिए स्वास्थ्य हम सब के लिए प्रथम वरीयता होनी चाहिए आम तौर पर यह संक्रामक बीमारी मानी जाती है यह क्षय रोग के नाम से भी जाना जाता है फेफड़ों पर इसका असर व इस बीमारी का हमला ज्यादातर होता है लेकिन इसके अलावा यह शरीर के किसी भी भाग को प्रभावित कर सकता है यदि इस बीमारी का बिना उपचार किए छोड़ दिया जाए तो संक्रमित लोगों में से 50% लोगों के मृत्यु का भी कारण हो सकता है| इसलिए इसके जो प्राथमिक लक्षण की जानकारी डॉक्टरों ने बताई उसके मुताबिक यदि खून वाली या खून के साथ पुरानी खांसी, बुखार, रात को पसीना आना और वजन घटना हो तो टीबी की संभावना हो सकता है |

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.