MIRZAPUR मड़िहान-स्वतंत्रता संग्राम सेनानी की हालत बिगड़ी,पुलिस नही तोड़वा सकी अनशन
तहसील क्षेत्र के कलवारी गांव में विवादित जमीन पर निर्माण कार्य के बिरोध में अधिवक्ता का चौथे दिन उपजिलाधिकारी न्यायलय के सामने तहसील बरामदे में अनिश्चित कालीन आमरण अनशन जारी रहा।अधिवक्ता के सहयोग में स्वतन्त्रता सेनानी की हालत बिगड़ने पर पहुँची पुलिस अनसन नही तोड़वा सकी।आरोप है कि मड़िहान तहसील क्षेत्र के कलवारी गांव स्थित सड़क किनारे एक पुश्तैनी जमीन पर चाचा भतीजे का लंबे अर्से से तहसीलदार न्यायलय में विवाद चल रहा है।चाचा ने विवादित जमीन को क्षेत्र के एक व्यक्ति को बेच दिया।आरोप है कि क्रेता विवादित जमीन पर खनखोद व निर्माण कार्य स्थानीय अधिकारीयों की मिलीभगत से करने लगा।विवादित जमीन पर निर्माण कार्य रूकवाने के लिए अधिवक्ता ने अधिकारीयों से गुहार लगायी किन्तु आश्वासन तक सिमट कर रह गया।विवश होकर अधिवक्ता सत्यप्रकाश त्रिपाठी ने उपजिलाधिकारी मड़िहान के न्यायलय के सामने तहसील के बरामदे में दरी बिछाकर अनिश्चित कालीन आमरण अनशन पर बैठ गये।विवादित जमीन पर अबैध ढंग से हो रहे निर्माण कार्य के विरोध में संतकवीर नगर भदोही जनपद के स्वतंत्रता संग्राम सेनानी चंद्रकांत पाण्डेय भी अधिवक्ता के सहयोग में बैठ गये।अधिवक्ता सत्यप्रकाश तिवारी का आरोप है कि सत्ताधारी नेता के सह पर अधिकारी मनमर्जी कर रहे हैं।तहसीलदार रामजीतमौर्य ने बताया की जमीन का विवाद न्यायलय में चल रहा है किन्तु मजिस्ट्रेट व पुलिस का काम है निर्माण कार्य रोकवाना।