बजट पर क्या बोली अनुप्रिया पटेल -9453821310

बजट में रखा समाज के हर तबके का ध्यान: अनुप्रिया पटेल

नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल ने केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा पेश किये गए आम बजट को गरीबों किसानों सहित समाज के हर तबके का बजट बताया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में केंद्रीय बजट में बुजुर्गों, महिलाओं, किसानों, व्यापारियों, युवाओं सबका ख्याल रखा गया है। केंद्रीय मंत्री श्रीमती पटेल ने कहा कि आम बजट में शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि, ग्रामीण विकास, रोजगार, एमएसएमई और बुनियादी ढांचागत क्षेत्रों को मजबूत करने के मिशन पर फोकस किया गया है। किसानों की आय को 2022 तक दोगुना करने के लक्ष्य को पूरा करने की सरकार की वचनवद्धता के लिए आगामी खरीफ की सभी अघोषित फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य उत्पादन लागत के कम से कम डेढ गुना करने का फैसला किया गया है। कृषि क्षेत्र के लिए संस्थागत ऋण की राशि में वर्ष 2014.15 के 8.5 लाख करोड रुपए की लागत से बढाकर इस बार 11 लाख करोड रुपए करने का फैसला किया गया है। इसके अलावा डेयरी उद्योग की वित्त निवेश की सुविधा के लिए सूक्ष्म सिंचाई कोष की स्थापना की जाएगी। इसके अलावा मत्स्य क्रांति अवसंरचना विकास कोष और पशुपालन के लिए सुविधा विकास कोष हेतु 10 हजार करोड की स्थायी निधि होगी। छोटे एवं मझोले किसानों के लिए 22 हजार किसान हाटों को विकसित किया जाएगा। श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने कहा है कि शिक्षा, स्वास्थ्य एवं सामाजिक सुरक्षा के लिए वर्ष 2017.18 के 1.22 लाख करोड रुपए के बजट को बढाकर 1.38 लाख करोड रुपए किया गया है। उन्होंने कहा कि 50 प्रतिशत से ज्यादा अनुसूचित जनजाति आबादी वाले ब्लॉक में एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय खोला जाएगा। उन्होंने कहा कि 10 करोड से ज्यादा गरीब एवं कमजोर परिवारों के स्वास्थ्य की देखरेख का जिम्मा खुद सरकार उठाएगी। इन प्रत्येक परिवार को गंभीर बीमारी के इलाज के लिए 5 लाख रुपए प्रतिवर्ष कवरेज प्रदान किया जाएगा। यह विश्व का सबसे बडा सरकारी वित्त पोषित स्वास्थ्य देखरेख कार्यक्रम होगा। इसके अलावा इस साल 24 नए मेडिकल कॉलेज और अस्पताल भी खोले जाएंगे। इस कदम के जरिए सुनिश्चित होगा कि प्रत्येक तीन संसदीय क्षेत्रों के लिए कम से कम एक मेडिकल कॉलेज उपलब्ध हो। टीबी के मरीजों के इलाज के लिए 600 करोड रुपए का विशेष आवंटन किया जाएगा। इस साल 70 लाख युवाओं को रोजगार दिया जाएगा। वर्ष 2022 तक हर सिर को छत दिया जाएगा। इसके तहत नए साल में 51 लाख नए घरों का निर्माण किया जाएगा। उज्जवला योजना के तहत 8 करोड निर्धन परिवारों को मुफ्त गैस कनेक्शन दिया जाएगा

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.