नकल कराने व करने वाले जायेगें जेल- डी0एम0 ने ली तैयारियों का जायजा

9453821310-जनपद के 96 केन्द्र 12 सेक्टरों में विभाजित-मोबाइल रहेगा प्रतिबिन्धत

मीरजापुर, 03 फरवरी, 2018( जिलाधिकारी विमल कुमार दूबे व पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी आज कलेक्ट्ेट सभागार में आगामी 6 फरवरी से प्रारम्भ्। होने वाली हाई स्कूल व इंटरमीडिएड की परीक्षा की तैयारियों को लेकर सभी केन्द्र व्यवस्थापकों व सेक्टर मजिस्ट्ेटों के साथ बैठ कर आवश्यक निर्देश दिये।

जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों से कहा कि 06 फरवरी से प्रारम्भ होने वाली यू0पी0 बोर्ड की परीक्षा को नकल विहीन व पूरी सुचिता से सम्पन्न कराने का सभी केन्द्र व्यवस्थकों को जिम्मेदारी होगी। सभी केन्द्रों पर निगरानी के लिये सेक्टर मजिस्ट्ेटों की तथा संदिग्ध केन्द्रों पर स्टेटिक महिस्ट्ेटों की तैनाती कर दी गयी है। जिलाधिकारी ने कहा कि यू0पी0बोर्ड की परीक्षा पूरी तरह से नकल विहीन और शान्तिपूर्ण ढंग से कराने के लिये जिला प्रशासन कटिवद्ध है इसमें किसी भी प्रकार की जापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी। उन्होंने कहा कि नकल कराने व और नकल करने वालों के विरूद्ध एफ0आई0आर0 दर्ज कर सीधे जेल भेजने की कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि सुरक्षा के दृष्टिगत सभी केन्द्रों पर प्र्याप्त मात्रा में पुलिस बल की तैनाती की जायेगी। इसके अलावा सचल दस्ता भी क्षेत्र में भ्रमण करेगा तथा किसी भी केन्द्र पर जाकर औचक निरीक्षण करेगा। जिलाधिकारी ने सभी केन्द्राध्यक्षेा व कक्ष निरीक्षकों से कहा िकवे अपने केन्द्र पर एक घंटे पूर्व पहुॅचगें और सभी तैयारियों को पूर्ण करायेगें। परीक्ष केन्द्र के अन्दर परीक्षा कार्य में लगे सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को जिला वि़द्यालय निरीक्षक तथा केन्द्र व्यवस्थापक के द्वारा फोटोयुक्त परिचय प़़.त्र जारी किया जायेगा । जिलाधिकारी ने कहा कि सभी केन्द्रों पर सी0सी0. कैमरा लगाया जायेगा तथा केन्द्र के मेन गेट पर एक सी0सी0 कैमरा अवश्य रहेगा ताकि बाहर की गतिविधियों व आने-जाने वाले की जानकारी की जा सके। उन्होंने यह भी बताया केन्द्र के 200 मीटर के अन्दर किसी भी प्रकार दुकान, भीड आदि नहीं रहेगा।

जिलाधिकारी ने कहा कि छात्रों व छात्राओं की तलाशी मेन गेट पर ही जायेगी किसी भी प्रकार की संदिग्ध सामान, पर्ची, मोबाइल, या अन्य कोई इलेक्ट्ानिक सामान लेकर अन्दर नहीं जायेगा। उन्होंने कहा कि छा़त्राओं की तलाशी महिला कर्मी/अध्यापिका के द्वारा एक रूम बनाकर किया जायेगा, तलाशी के दौरान किसी भी छात्र व छात्रा के साथ सौहार्दपूर्ण आचरण किया जाये। उन्होंने कहा कि छात्र भी अपने अच्छ व सनहरे भविष्य के लिये नकल विहीन परीक्षा में अपना सहयोग प्रदान करें तथा यदि सम्भव हो तो मोबाइल आदि घर पर छोड कर आयें। केन्द्रों पर पीने के लिये पानी, शैाचालय आदि का समुचित व्यवस्था की जाये। उन्होंने यह भी बताया कि यदि किसी छात्र को अपने परीक्षा के दोरान लेखक की मांग करता है तो उस लेखक का आधार कार्ड होना जरूरी होगा तथा वह परीक्षा देने वाले छात्र के एक कक्षा नीचे का हो। परीक्षा केन्द्र के परिसर या अन्दर यदि प्रबन्धक/प्राचार्य का आवास या हास्टर हो तो उसकी तलाशी सौहार्दपूर्ण वातावरण में उसके उपस्थिति में किया जायेगा। सचल दस्ते के पास भी उनका बैच होगा। जिलाधिकारी ने कहा कि यदि किसी भी प्रकार गडबडी किसी भी केन्द्र पर पायी जाती है तो निश्चित रूप् से कडी से कडी कार्यवाही की जायेगी अतएव सभी लोग नगल विहीन, सुचितापूर्ण व शान्तिपूर्ण परीक्षा कराने में पूरी निष्ठा के साथ कार्य करें और सहयोग प्रदान करें। उन्होंने कहा कि सरकार की स्पष्ट मंशा है कि नकल विहीन परीक्षा सम्पन्न कराया जाये इसमें किसी भी स्तर पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी ने कहा कि सभी केन्द्रों पर प्र्याप्त पुलिस बल की व्यवस्था की गयीहै। सभी सेक्टर मजिस्ट्ेट, केन्द्राध्यक्ष अपने से सनजदीकी पुलिस स्टेशन के अधिकारी का मोबाइल नम्बर अवश्य रखें तथा अप्रिय घटना होने पर सौ नम्बर पर डायल करें। उन्होंने कहा कि सभी सेक्टर मजिस्ट्ेटों व केन्द्राध्यक्षेां का एक वाट्एप् ग्रुप बनाया जाय ताकि किसी भी प्रकार सूचना इसी पर तत्कल आदान-प्रदान किया जा सके। इस अवसर पर उप जिलाधिकारी सदर अरविन्द कुमार चैहान, लालगंज अश्वनी कुमार पाण्डेय, मुख्य राजस्व अधिकारी बी0बी0 सिंह, नगर मजिस्ट्ेट देवेन्द्र प्रताप मिश्र, चुनार डा0 अविनाश त्रिपाटी, मडिहान सविता यादव, जिला विद्यालय निरीक्षक के अलावा अन्य सम्बंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.