9453821310-उत्तर प्रदेश की पुलिस सिर्फ कानून व्यवस्था को सुचारु रुप से रखने की जिम्मेदारी ही नहीं निभा रही है अपितु महिलाओं के प्रति सम्मान और महिलाओं की शक्ति का आकलन करने में भी जन समुदाय को शिक्षित कर रही है |इन दिनों मिर्जापुर पुलिस के द्वारा जगह-जगह दीवारों पर महिलाओं की शक्ति व उनके आदर के प्रति जागरूक करने का उल्लेखनीय कार्य किये जा रहे है | स्लोगन के माध्यम से यह बताने का प्रयास किया जा रहा है कि नारी में शक्ति सारी है तो फिर क्यों नारी को कहे बिचारी, क्यों नारी पर ही सब बंधन, पुरुषों को क्यों स्व्छंदन? महिला है शक्ति स्वरुप सभी हो जाएं जागरूक, नारी का करो सम्मान तभी बनेगा देश महान ,बराबरी का साथ निभाए महिलाएं अब आगे आएं अबला नहीं है बिल्कुल नारी संघर्ष रहेगा हमारा जारी, सशक्त नारी से ही बनेगा सशक्त समाज महिलाओं को दो इतना मान कि बढ़े हमारे देश की शान, सारी स्त्रियों को मानो अपनी मां बहन बेटी नहीं तो जाना पड़ेगा जेल, बेटी लड़कियों को बंधन से रहना सहना सब सिखाते लड़कों को नहीं सिखाते , सिटी मत मारो करो स्त्री का सम्मान नहीं तो यूपी पुलिस करेगी काम तमाम, 100 नंबर पर करें कॉल जब कोई आप को बुलाए बेबी डॉल, यंत्र नारी पूज्यंते तत्र रमंते देवता कहने का आशय यह है कि जब नारी में शक्ति सारी है तो फिर क्यों नारी को कहे बिचारी ,क्यों नारी पर ही सब बंधन जैसे स्लोगन दीवारों पर लिखा जा रहा है इसके पीछे पुलिस नवयुवको में अच्छे संस्कार डालना चाहती है| तमाम जनसेवको ने पुलिस के इस कार्य को अत्यंत सराहनीय बताया | नारी के सम्मान में पुलिस मैदान में नजर आती दिखाई दे रही है|समाज में नारियों के प्रति आदर का सम्मान हो और बेटियां औरते,युवतियां ,बहुएं ,बहने ,माताए,सभी चिंता मुक्त होकर समाज में विचरण कर सके |पुलिस के इस प्रयाश से विकृत मानसिकता से ग्रसित लोगो में सुधरने का मौक़ा मिल सकता है |