इनका धंधा देख आप भी अचम्भित हो जायेंगे-MIRZAPUR

यह बात तो तय है कि आज तक इतनी लंबी कमाई करने वाला फोर व्हीलर वह भी Bolero जैसी गाड़ी आपने शायद ही देखी होगी मिर्जापुर पुलिस ने जिस गाड़ी को बरामद किया है वह अत्यंत चौकाने वाला गाड़ी दिखाई दे रहा है गाड़ी को कुछ इस तरीके से बनाया गया था कि लगभग 2000 किलोग्राम सामग्री गाड़ी में रख दी जाएगी और किसी को पता भी नहीं चल पाएगा |जी हां मिर्जापुर की पुलिस ने 122 किलो अवैध गांजा को जिस Bolero गाड़ी से पकड़ा है उस Bolero गाड़ी के मालिक ने गाड़ी का निर्माण अपने मुताबिक करा कर रखा था गांजा जैसी चीज यदि 122 किलो छुपा के रखा जा सकता है तो सोना चांदी व अन्य कीमती धातुओं का इसमें छिपा के ले जाना आम बात हो सकता था| छत्तीसगढ़ से जौनपुर जाने का मार्ग मात्र लगभग 170 किलोमीटर का है एक बार यह सफर तय कर लेने के बाद २५ लाख रुपए कमाने वाला यह Bolero गाड़ी अपने आप में अद्वितीय बेमिसाल है| आश्चर्य की बात यह है कि कई बार इन दो राज्यों के बीच से गुजरने वाला यह Bolero अपने मिशन में कई बार कामयाब हो चुका है मादक पदार्थ व अवैध कारोबार में लिप्त यह गाड़ी जिसने भी देखा दांतों तले उंगली दबा लिया |लेकिन फिलहाल मिर्जापुर पुलिस की तारीफ अवश्य करनी होगी कि उसकी पैनी नजर से यह माफिया अवैध रूप से मादक पदार्थ के कारोबार करने वाले बच नहीं पाए और जेल की सलाखों के पीछे भेज दिए गए |साथ ही साथ मिर्जापुर जनपद के चील थाना क्षेत्र में जिस दांपत्य को पुलिस ने पकड़ा है वह भी मादक पदार्थ के व्यवसाय में लिप्त पाया गया जिसने भी देखा वह इस व्यवसाय के सुंदरीकरण हो जाने की परिभाषा को परिभाषित करता देखा गया | फिलहाल भारत के उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले में इस तरीके की गाड़ी को पकड़ा जाना वह अवैध रूप से मादक पदार्थ का बरामद करना इन दिनों चर्चा का विषय बना हुआ है|
थाना चील्ह में 10 लीटर अवैध कच्ची देशी शराब के साथ 02 अभियुक्त गिरफ्तार*
थाना चील्ह क्षेत्रान्तर्गत दिनांक-09-02-2018 को समय 18.10 बजे उ0नि0 अशोक दत्त त्रिपाठी प्रभारी चौकी टेढ़वा थाना चील्ह मय हमराह गश्त/चेकिंग में मामूर थे कि ग्राम मुजेहरा खुर्द से अभियुक्त भीम रस्तोगी निवासी थाना चील्ह मीरजापुर व उनकी पत्नी निवासी थाना चील्ह मीरजापुर को 05-05 लीटर अवैध कच्ची देशी शराब के साथ गिरफ्तार गिरफ्तार किया गया। इस सम्बन्ध में थाना चील्ह में पति-पत्नी के विरूद्ध क्रमशः में मु0अ0सं0-38/18 व 39/18 अन्तर्गत धारा 60 आबकारी अधिनियम पंजीकृत कर अभियुक्तगण को जेल भेजा गया।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.