मरीज को भी सुविधा शुल्क देने में सुविधा-MIRZAPUR

मिर्जापुर वासियों ने भी,उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के आने पर जश्न मनाया था ,इस आशय से कि अच्छे दिन आने वाले हैं लेकिन आप यकीन मानिए आज मिर्जापुर जिला अस्पताल के अंदर पत्रकारों ने जो देखा वह विडंबना से कम नहीं कहा जा सकता मरीज व उनके परिजनों ने जो आरोप लगाया है वह कितना शर्मसार कर देने वाला है इसका सटीक अंदाजा तभी मिल सकता है जब स्वयं कोई व्यक्ति उस स्थिति में होगा और उसके साथ कमोवेश यही व्यवहार किया जाएगा जैसे आज दिन मरीजों के साथ हो रहा है जी हां परिजनों के द्वारा जो आरोप लगाए गए हैं उसके मुताबिक मिर्जापुर जिला अस्पताल में बिना सुविधा शुल्क लिए एक मरहम पट्टी तक से नहीं होता दूसरे ऑपरेशन के लिए खुले आम रुपए की मांग की जाती है जिन जिन मरीजों का बयान जिन जिन मरीजों ने कैमरे के सामने बोलने की हिम्मत जुटाई उनका वास्तव में किसी बहादुर व्यक्ति से कम आकलन करना बेईमानी होगा |जब किसी का बेटा किसी का भाई किसी का अपना अस्पताल में भर्ती होता है तो उसके सामने जबरदस्त मानसिक दबाव होता है ऐसे में वह किसी तरीके का पंगा खास तौर पर डॉक्टर और अस्पताल प्रशासन से नहीं लेना चाहता मगर इन समस्याओं के बावजूद इन चुनौतियों के बावजूद यदि परिजनों के द्वारा अपनी समस्या खुले रुप से मीडिया के सामने बताने का यदि किसी ने हिम्मत जुटाया तो वास्तव में सलूट के लायक है |लेकिन उससे भी ज्यादा गंभीर स्थिति तब सामने आती है जब जनपद के अंदर तमाम बड़े उच्च आला अधिकारी के साथ साथ सांसद विधायक व अन्य समाज सेवी संगठन के द्वारा यह कहा और प्रचारित कराया जाता है कि निशुल्क उपचार पूर्णतया मिर्जापुर जिला अस्पताल में उपलब्ध है लेकिन वस्तुस्थिति ठीक इसके विपरीत जब हो जाए तो स्थिति कितनी भयावह है इसका अंदाजा लगाने मात्र से रूह कांप जाता है| जबरदस्त शोषण जबरदस्त कानून का उल्लंघन और अमानवीय व्यवहार जैसे तमाम कुकृत्य इस वक्त मिर्जापुर जिला अस्पताल में देखा जा सकता है सुविधा शुल्क और मरीजों का शोषण एक मरीज तो यहां तक कह दिया कि यदि हम लोग सुविधा शुल्क ना दें तो यहां से दफा करने और रेफेर की धमकी तक दी जाती है |मरीजों के सामने स्थिति तब और भयावह हो जाती है जब उनसे कुछ भी सविधा शुल्क अस्पताल को मिलने की उम्मीद नहीं रहती तब उनको रेफेर करने की धमकी दी जाती है कि वह इलाहाबाद बनारस जाए |जनपद छोड़ने के नाम से ही डर जाते हैं मरीज व उनके परिजन क्योंकि वहां आना-जाना और बदले माहौल के साथ कितने रुपए का खर्च होगा यह उनके सामने बनावटी अन्धकार का वातावरण बना दिया जाता है | जनपद मिर्जापुर के जिला अस्पताल में इस तरीके से माहौल तैयार किया जाता है कि मरीज को भी सुविधा शुल्क देने में सुविधा महसूस होने लगती है लिहाजा यह सिलसिला अनवरत जारी है|हालांकि इस सम्बन्ध में सम्बंधित डॉक्टर्स से पूछा गया तो उनपर लगे आरोप को गलत बताया कहा की बदनाम करने की साजिश की जा रही है |

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.