राम कथा के दूसरे दिन

छानबे। छानबे के गोडसर बाजार मे चल रहे नौ दिवसीय राम कथा के दूसरे दिन प्रशांतनंद जी महाराज ने राजा दशरथ को चौथे पन मे राम सहित चार पुत्र रत्न की प्राप्ति पर पूरे अयोध्या मे हर्ष तथा भगवान राम के बाल काल का विस्तृत कथा सुनाते हुए कहा कि भगवान राम बाल्यावस्था से ही गुरु माता पिता के आज्ञाकारी थे ।चारों भाइयों मे प्रगाढ़ मित्रता थी ।भगवान राम कौशल्या कैकेई सुमित्रा को समभाव माता मानते थे ।राम का चरित्र सुखमय जीवन जीने की सीख देती है ।कलयुग मे तो राम नाम जपने से ही उद्धार हो जायेगा ।कथा मे गुलाब शंकर तिवारी अमरनाथ पांडेय विजय शंकर तिवारी हिंछलाल यादव राम रक्षा यादव मजनू सोनकर सहित काफी लोग मौजूद रहे ।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.