15 मार्च तक कार्य पूर्ण न होने पर होगी कार्यवाही – जिलाधिकारी

़जिलाधिकारी ने नवरात्र व कंतित मेला की तैयारियों का किया निरीक्षण
मीरजापुर 13 मार्च 2018 ( माँ विन्ध्यवासिनी के धाम विन्ध्याचल में 17/18 मार्च के मध्य रात्री से प्रारम्भ होने वाले चैत्र नवरात्र मेले की तैयारियों को लेकर सभी विभागो पर जिलाधिकारी श्री विमल कुमार दूबे ने कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि 15 मार्च तक सभी कार्य पूर्ण न होने पर सम्बन्धित विभाग के अधिकारी व कर्मचारी के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी। उन्होने कहा कि मेला क्षेत्र में किसी प्रकार की लापरवाही बर्दास्त नही की जायेगी। जिलाधिकारी आज विन्ध्याचल के प्रशासनिक भवन में मेला से सम्बन्धित अधिकारियों के साथ तैयारियों की समीक्षा की तथा मेला क्षेत्र का भ्रमण कर तैयारियां का जायजा लिया ।

बैठक में जिलाधिकारी मेला क्षेत्र के गलियों व नालियों की सफाई न किये जाने पर अधिशासी नगर पालिका मीरजापुर को कडी फटकार लगाते हुए कहा कि कल तक सभी नालियों की सफाई करा ली जाये उन्होने यह भी निर्देशित किया कि विन्ध्याचल की गलियों मे मोरंग, बालू, गिट्टी आदि रखा जाता है या घर के नालियों का पानी व कूडा सडको पर गिराया जाता है तो उसके विरूद्ध चलान काटकर नियमानुसार कार्यवाही सुनिश्चित की जाये। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी दुकानदार अपने दुकान के सामने डस्टबिन रखे अन्यथा उनके विरूद्ध भी कार्यवाही की जाये। जिलाधिकारी ने लोक निर्माण विभाग को निर्देशित करते हुए कहा कि दूधनाथ तिराहा सहित मेला क्षेत्र के सभी सडको का मरम्मत 15 मार्च तक किसी भी दशा में पूर्ण कराये। उन्हाने कहा कि सडको की अव्यवस्था व मेला क्षेत्र की गंदगी की शिकायत पाये जापे पर कडी कार्यवाही की जायेगी। मेला क्षेत्र में तथा घाटो पर निर्माणाध्ीान शौचालय महिलाओं के वस्त्र बदलने के लिये स्थान, गंगा के किनारे बैरीकेटिंग,,प्रकाश व्यवस्था, गलियों की सफाई, ध्वनि विस्तारक यंत्र,,खोया पाया केन्द्र,,खराब हैन्डपम्पो या नलकूपों व ओवर हेड टैंको की मरम्मत व सफाई, आवारा पशुओं को पकड़ना, पेयजल हेतु टैंकरो की व्यवस्था, कालीखोह व अष्टभुजा, के रास्तो पर प्रकाश व्यवस्था गोताखोर व रैन बसेरों की सफाई आदि की व्यवस्था 15 मार्च तक पूरा करने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने कहा कि पूरे मेला क्षेत्र को दुर्गन्ध व मच्छर मुक्त क्षेत्र नगर पालिका व मुख्य चिकित्साधिकारी आपस में समन्वय स्थापित कर बनायें। उन्होने स्टेशन अधीक्षक उ0म0 रेलवे व रोडवेज को निर्देशित किया कि अपने-अपने क्षेत्र में सफाई यात्रियों की रूकने की व्यवस्था, टिकट के लिये अतिरिक्त काउन्टर, गाडियों व बसो के अवागमन की सूचना आदान-प्रदान करने की समुचित व्यवस्था तथा प्राइवेट वाहन स्टैण्डों पर रेटबोर्ड खिलवाने की व्यवस्था कराये जिससे यात्रियों को किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पडे। बैठक में खाद्य सुरक्षा, सुलभ शौचालय, िचकित्सको व दवाओं की उपलब्धता, घाटो पर 1000 वाट की मर्करी लाईट लगवाना आदि के लिए सम्बन्धित अधिकारी को निर्देशित किया। जिलाधिकारी ने विन्ध्याचल में चल रहे तैयारियों का गलियों, घाटो, मन्न्दिर परिसर आदि का भ्रमण कर स्थलीय निरीक्षण भी किया। निरीक्षण के दौरान कई स्थानों पर नालियों को टूटा पाये जाने, व मेन होल पर ढक्कन न होने पर कडी नाराजगी व्यक्त की।

जिलाधिकारी ने नवरात्र मेला के दौरान पडने वाले कंतित शरीफ पर लगने वाले उर्श मेला क्षेत्र का भी भ्रमण कर स्थलीय निरीक्षण किया तथा सम्पर्क मार्ग पेयजल व्यवस्था प्रकाश व्यवस्था आदि के बारे में नगर मजिस्ट्रेट व नगर पालिका के अधिकारियों को समय से तैयारियों को पूरा करने के लिये निर्देशित किया। इस अवसर पर ज्वाइन्ट मजिस्ट्रेट अश्विनी कुमार पाण्डेय नगर मजिस्ट्रेट देवेन्द्र प्रताप मिश्र अधिशासी अभियन्ता विद्युत यदुनाथ सहित सभी विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्न्

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.