प्रधान व कोटेदार के घर समरसेबुल लगा है तो ग्रामिणो को पानी देना होगा-MIRZAPUR

9453821310-ग्राम स्तरीय अधिकारी व कर्मचारी देंगे पेयजल से सम्बन्धित फीडबैक

सभी कार्यालयों में की जाये प्याऊ की व्यवस्था
मीरजापुर 3 अप्रैल 2018 ( जिलाधिकारी विमल कुमार दूबे ने सभी अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि पेयजल के समस्या व उसकी निरकरण के लिये सभी अधिकारियों की जिम्मेदारी है कि अपने विभाग के सभी ग्राम स्तरीय अधिकारी व कर्मचारियों को निर्देशित करे कि वे अपने पास गांव से सम्बन्धित पेयजल के बारे में पूरी जानकारी रखे। बेसिक शिक्षा अधिकारी व जिलापूर्ति अधिकारी को विशेष रूप स निर्देशित करते हुए कहा कि पेयजल के सम्बन्ध में किसी भी प्रकार की शिकायते प्राप्त होती है तो उस सम्बन्ध में सम्बन्धित गांव के ग्राम प्रधान, प्रधाना अध्यापक/ अध्यापक तथा कोटेदार से मोबाइल पे वार्ता कर तत्काल जाच कराकर वास्तविक स्थिति के बारे में जानकारी करें तथा त्वरित निस्तारण सुनिश्चित करायें। जिलाधिकारी आज मडिहान तहसील में आयोजित समाधान/तहसील दिवस में आये हुए फरियादियों की समस्याओं को सुनने के बाद अधिकारियों को उक्त निर्देश दिया। उन्होने कहा कि इसी प्रकार आशा, आगनवाडी कार्यकर्ती, सहित सभी ग्राम स्तरीय अधिकारियों का ग्रामवार मोबाइल न0 कंट्रोल रूम पर रखा जाये ताकि पेयजल से सम्बन्धित समस्या का निस्तारण तत्काल कराया जा सके। जिलाधिकारी ने कहा कि जिला मुख्यालय, तहसील, व ब्लाक मुख्यालयों पर कंट्रेाल रूम खोलकर कर्मचारियों की तैनाती करते हुए रजिस्टर बनाया जायें, प्राप्त शिकायतो को दर्ज कर उसके निस्तारण के सम्बन्ध में भी रजिस्टर मे दर्ज किया जाये। जिलाधिकारी ने कहा कि पेयजल समस्या से सम्बन्धित किसी भी स्तर पर सीथिलता पाये जाने पर सम्बन्धित अधिकारी कर्मचारी के विरूद्ध कडी कार्यवाही की जायेगी। जिलाधिकारी ने ये भी कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को पानी उपलब्ध कराना हम सभी का मानवीय दायित्व है। उन्हाने कहा कि गांव में ग्राम प्रधान व कोटेदार के घर पर यदि समरसेबुल लगा है तो उनके द्वारा ग्रामिणो को पीने के लिये पानी देना होगा।

तहसील दिवस में ग्राम भडौरा, कोटवा, कलवारी खुर्द,सहित व्भििन्न ग्रामो से लगभग 10 से 12 लोगो में पेयजल से सम्बन्धित प्रार्थना पत्र दिये जिसका जिलाणिकारी के निर्देश पर जिलापूर्ति अधिकारी केद्वारा सम्बन्धित गांव के कोटेदार से वार्ता कर फीडबैक प्राप्त किया गया जिसमें सभी समस्याओं का निस्तारण तत्कालिक प्रभाव से किया गया। ग्राम हडौरा से एक महिला द्वारा शिकायत किया गया कि उसके घर के पास का हैण्डपम्प खराब है परन्तु कोटेदार द्वारा बताया गया कि लगभग 50 मीटर पर दूसरा हैण्डपम्प चालू है इसी प्रकार बनवारी खुर्द में पानी की समस्या के निस्तारण के लिये निर्देशित किया गया है कि कोटेदार के घर पर लगे समरसेबुल से पानी दिया जाये। इस प्रकार से जिलाधिकारी द्वारा तहसील दिवस मे ं प्राप्त पेयजल से सम्बन्धित सभी समस्याओं का निस्तारण किया गया। तहसील दिवस में जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को यह भी निर्देशित किया कि गांव से लेकर जिला मुख्यालय तक सभी कार्यालयों , पंचायत घरो, विद्यालयों, आगनवाडी केन्द्रो सहित सभी कार्यालय में मटका रखकर पेयजल की व्यवस्था की जाये।

तहसील दिवस में पूर्व के प्रार्थना पत्र के निस्तारण न हाने पर राजस्व निरीक्षक शम्भूनाथ को कडी फटकार लगाते हुए मामले का आज ही निस्तारण करने का निर्देश दिया। तहसील दिवस में राजस्व, पैमाइस, चकबन्दी, पी0डब्लू0डी0, विद्युत, विकलांग पेंशन, समाज कल्याण, आदि से सम्बन्धित प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए जिसके निस्तारण के लिये सम्बन्धित अधिकारियों को दिया गया।

तहसील दिवस के बीच में उठकर जिलाधिकारी विमल कुमार दूबे अकेले ही तहसील के कक्षो में जाकर घूमने लगे जिसमे कर्मचारियों में अफरा तफरी मच गयी। इस दौरान जिलाधिकारी ने टूटी हुई कुर्सियों को मरम्मत कराने भी निर्देश दिया कार्यालय भ्रमण के दौरान जिलाधिािरी द्वारा स्वास्थ विभाग के लगाये गये दिव्यांग प्रमाण पत्र बनाये जाने वाले कैन का भी निरीक्षण किया । इस दौरान काफी दिनो से बीमार चल रहे शान्ति देवी पत्नी सेवा लाल ग्राम बभनी को इलाज के लिये बी0एच0यू0 रीफर करने का निर्देश सम्बन्धित चिकित्साधिकारी को देते हुए कहा कि यदि किसी प्रकार की दिक्कत होगी तो वहा के डाॅक्टर से वार्ता भी कराये। बाद मे जिलाधिकारी ने इस वित्तीय वर्ष के आवासो के बारे में भी समीक्षा की। डन्हाने अधिकारियों को बधाई देते हुए कहा कि सभी बीते वित्तीय वषर््ा मे सराहनी कार्य किया गया है जिसके लिये शासन व ग्राम विकास मंत्री के द्वारा भी जनपद की सराहना की गयी। उन्हाने अधिकारियों से कहा कि आगे और भी लगन व मेहनत से सरकार के मनसा अनुरूप कार्य करे ताकि जनपद को प्रत्येक मद में प्रदेश के प्रथम स्थान पर लाया जा सके। तहसील दिवस में मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ0 ए0के0 उपाध्याय, उप जिलाधिकारी सविता यादव, परियोजना निदेशक डाॅ0 हरिचरन सिंह, जिलापूर्ति अधिकारी ए0के0 सिंह जिला कार्यक्रम अधिकारी प्रमोद कुमार, अधिशसी अभियन्ता पी0डब्लू0डी0, जल निगम, विद्युत, सिचाई सहित अन्य जिलाधिकारी उपस्थित रहे।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.