अधिकारियो ने निजीकरण के विरोध में 800 रुपये का पकोड़ा बेच डाला-MIRZAPUR

9453821310-विरोध के बाद भी सरकार के ओर से कोइ जवाब न आने से खफा बिजली विभाग के अधिकारीयो ने दिनांक ४-४-१८ को बिजली विभाग के निजीकरण के विरोध में 800 रुपये का पकोड़ा बेच डाला |जब की कल दिनांक ३-४-१८ को बिजली विभाग के कर्मचारियों के द्वारा निजीकरण किए जाने के विरोध करने का नया तरीका अख्तियार किया प्रदेश सरकार के बुद्धि शुद्धि के लिए विशेष हवन पूजन का कार्यक्रम रखा गया था जिसमें यज्ञ के उपरांत आरती की गई वह हवन के साथ विशेष मंत्र उच्चारण करके सरकार को मानसिक रूप से व आध्यात्मिक तौर तरीके से समझाने की कोशिश की गई कि निजीकरण ना तो राज्य के हित में है और ना ही मौजूदा उपभोक्ताओं के हित में है | समय रहते सरकार के मानसिक पटल में परिवर्तन आए और विद्युत विभाग के कर्मचारियों व उपभोक्ताओं के हित को ध्यान में रखते हुए निजीकरण प्रक्रिया पर तत्काल रोक लगे इसके लिए विभाग के द्वारा सरकार पर मन्त्र के तीर चलाये गए |
विधुत विभाग को निजीकरण करने की प्रक्रिया के विरोध में आज भी मिर्जापुर विधुत विभाग के कर्मचारी गण अधिशासी अभियंता अधीक्षण अभियंता ने सरकार के द्वारा विभाग को निजीकरण किये जाने की प्रक्रिया पर गहरा रोष जताया है |विगत कई दिनों से चले आ रहे विरोध प्रदर्शन का समर्थन करने आज मिर्जापुर में उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल ने भी अपना समर्थन देते हुए प्रांतीय उपाध्यक्ष व नगर अध्यक्ष शत्रुधन केसरी ने बताया कि हमारा संगठन विद्युत विभाग के मांग का समर्थन करता है और सरकार के इस फैसले का सख्त विरोध करता रहेगा जब तक बिजली विभाग के द्वारा मांगी जा रही मांग ना पूरा हो | इसी क्रम में अभियंताओं ने भी अपने भाषण के दौरान निजीकरण के नुकसान के बारे में चर्चा किया और बताया कि उपभोक्ता के हित में निजीकरण का कदम कतई सही नहीं हो सकता |निजीकरण हो जाने के बाद उपभोक्ताओं के साथ सौतेला व्यवहार होने लगेगा| आज विद्युत विभाग के कर्मचारी विद्युत कर्मचारियों के हित के लिए ही नहीं बल्कि उपभोक्ता के हित के लिए भी निजीकरण का विरोध करने के लिए एकजुट हुए हैं| इसी का परिणाम है कि हमारी मांग के समर्थन में समाजवादी पार्टी के साथ-सथ आज कई संगठनों ने भी अपना समर्थन दिया है जिससे यह प्रतीत होता है कि सरकार की नीति का विरोध हर स्तर पर हो रहा है|लेकिन इस विरोध के बाद भी सरकार के ओर से कोइ जवाब न आने से खफा विभागीय अधिकारीयो ने दिनांक ४-४-१८ को बिजली विभाग के अधिकारियो ने निजीकरण के विरोध में 800 रुपये का पकोड़ा बेच डाला |

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.