गेहू काटने से मना करने पर १० दलितों सहित १२ घायल -MIRZAPUR

मिर्जापुर के नौहा गांव में आज भी गुंडई और दबंगई अपने चरम पर देखा जा सकता है ।घटना 14.4.18 सायंकाल 5:00 बजे के आसपास का बताया गया है ।जानकारी के मुताबिक गेहूं ना काटने पर आम तोड़ने का बहाना बनाने के पश्चात जबरदस्त मारपीट हुई |।जिसमें विजय शंकर उम्र 33 वर्ष ,बबलू ,बेटू ,सोनू, अनीता ,अंजू, बिंदु ,प्रेमचंद ,भवानी देवी व अजय घायल हो गए हैं। यह समस्त घायल पिछले 22 घंटे से देहात कोतवाली थाने के प्रांगण में बैठकर अपने साथ न्याय होने की गुहार लगाते देखे गए। इन लोगों का आरोप है कि विपक्षी के द्वारा हम लोगों को उनका गेहूं काटने से मना कर देने पर हम लोगों की पिटाई की गई ।साथ ही साथ इस समस्त घटनाक्रम पर देहात कोतवाली पुलिस ने दोनों तरफ से मुकदमा कायम किया है। दलित पक्ष से विजय, अतनु, बबलू व प्रेम को अभियुक्त बनाया गया है ।उनके खिलाफ 323 ,504 ,506 ,427 धारा के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया है ।उसके अलावा दलितों के विपक्षी में सिर्फ 1 लोगों को नाम दर्ज किया गया है ।जिसमें उजाला दुबे के खिलाफ मुकदमा पुलिस ने 323 ,504 ,3 (A) द ध मुकदमा संख्या 134/ 18 में मुकदमा कायम करके जांच शुरु कर दिया। विजय शंकर, बबलू ,सोनू ,भेरु, अनीता, अंजू ,बिंदु प्रेमचंद ,भवानी व अजय घायल अवस्था में लगभग 24 घंटे से थाने पर अपनी पीड़ा अपनी वेदना और अपनी समस्या लेकर खड़े हैं ।जब मीडिया पहुंची तब मामले को पंजीकृत किया गया और मीडिया से बात करते हुए अनीता ने रोते हुए बताया कि उसको बुरी तरीके से मारा गया है। उसके आंख के साथ-साथ उसके जांघ को भी निशाना बनाया गया। उसके जांघ में विपक्षियों द्वारा पूरी तरीके से जख्मी करने का आरोप लगाया है ।इतनी बर्बरता से मारा गया कि किसी की गर्दन में तो ,किसी के पीठ में ,किसी के हाथ ही कट गए हैं ।पुलिस ने देर से ही सही समस्त घायलों को मेडिकल के लिए भेज दिया है।पुलिस ने दोनों पक्छो का मेडिकल कराया जिसके आधार पर अग्रिम कार्यवाही की जा सकती है |

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.