कोई भी किसान अपने गेहूॅ को लेकर केन्द्र से वापस नहीं जायेगा- अनुराग पटले

9453821310-मीरजापुर, 25 अर्पैल, 2018( जिलाधिकारी अनुराग पटले आज विकास खण्ड मझंवा के अन्तर्गत कई गेहूॅं क्रय केन्द्रों का औचक निरीक्षण किया। अचानक जिलाधिकारी के पहुॅचने पर केन्द्रों पर हडकम्प मच गया वहीं उपस्थित किसानों ने अपनी समस्याओं से जिलाधिकारी को अवगत कराया। जिलाधिकारी आज लगभग दो बजे कलेक्ट््रेट से निकलने के बाद सीधे कछंवा में स्थापित पी0सी0एफ के गेहूॅक्रय केन्द्र जाकर निरीक्षण किया इस अवसर पर विजय कुमार गुप्ता एम0आई0/केन्द्र प्रभारी उपस्थित मिले। जिलाधिकारी के निरीक्षण के दौरान केन्द्र प्रभारी के द्वारा बताया कि निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष अभी तक चार हजार कुन्तल क्रय जा चुका हैजो लक्ष्य के40 प्रतिशत है। निरीक्षण के दौरान मौके पर 203 बोरा गेहूॅमिला, केन्द्र प्रभारी के के द्वारा बताया गया कि केन्द्र पर मौके पर 10 हजार बोरा उपलब्ध है। धनराशि के बारे में जानकारी प्राप्त करने पर बताया गया कि कुल प्राप्त 778437 रूपया के सापेक्ष्य किसानों के खाते में आर0टी0जी0एस के माध्यम से दिनापंक 23 अपै्रल तक 70 लाख भुगतान किया जा चुका है। केन्द्र पर कांटा सही पाया गया परन्तु छलना उपलब्ध नहीं है बताया गया कि सचिव मण्डी समित को अवगत कराया गया है। जिलाधिकारी ने कल तक छलना उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी के निर्देश पर ज्वांइंट मजिस्ट््रेट अश्वनी कुमार पाण्डेय ने भुगतान प्राप्त किसानों में कृषक सुधीर कुमार तथा जयशंकर शर्मा के माबाइल पर वार्ता कर जानकारी की गयी तो उनके द्वारा बताया गया कि 1745 रू0 प्रति कुन्तल की दर से उनके खाते में पैसा प्राप्त हो गया है। जिलाधिकारी ने बैनर लगवाने का निर्देश दिया। केन्द्र पर किसानों के प्येयजल व बैठने की व्यवस्था सही पाया गया।

इसके बाद जिलाधिकारी सहकारी समिूति बजहां में पी0सी0एफ के द्वारा स्थापित केन्द्र पर पहुॅचे जहां पर आशंतोष कुमार सिंह , सचिव उपस्थित पाये गये। इस दौरान रजिस्टर देखने पर पाया गया कि 24 अपै्रल को 200 कुन्तल की खरीद की गयी थी। केन्द्र पर कांटा खराब पाया गया, किसानों के लिये पेयजल की सुविधा और बेहरत करनें का निर्देश दिया गया। केन्द्र छलना नहीं है। रजिस्टर से किसान शंकर श्रण तथा शम्भु से मोबाइल पर वार्ता के दौरान बताया कि उनके खाते में 1745 रू0 प्रति कुन्तल की दर पैसा भेजा गया है। सचिव द्वारा बताया गया कि मात्र 600 बोरा उपलब्ध है जबकि स्टार में बोरी की गिनती करने एक हजार बोरा पाया गया जिस पर सचिव को कडी फटकार लगायी गयी। जिलाधिकारी ने छलना कल तक मंगाने का निर्देश देते हुये कहा कि बैनर सडक के मोड पर लगाया जाये। इसके बाद जिलाधिकारी करसडा सगरा केन्द्र पर गय जहा। पर केन्द्र प्रभारी गौरव मिश्रा अनुपस्थित पाये गये। केन्द्र पर ट््राली से गेहूॅ उतरता हुआ पाया गया। केन्द्र पर उपस्थित रजिस्टर भरा नहीं गया था, केन्द्र पर पानी की व्यवस्था की गयी थी। केन्द्र प्रभारी को केन्द्र पर उपस्थित रहने का निर्देश दिया गया। जिलाधिकारी पदुपरान्त कछंवा बाजार में पी0सी0एफ0 द्वारा स्थापित केन्द्र पर पहुॅचे । इस केन्द्र के प्रभारी की शिकायत अन्य केन्द्र पर निरीक्षण के दौरान किसानों द्वारा गेहॅूे की तौल न करने तथा किसानों को दूसरे केन्द्र भेज देने की शिकायत की गयी थी। जिलाधिकारी के निरीक्षण के दौरान केन्द्र प्रभारी राम कुमार मौर्य के द्वारा जिलाधिकारी ेस भी बेढंग तरीके से वार्ता की गयी जिलाधिकारी ने कडी फटकार लगाते हुये कहा कि पहलं अधिकारी से बात करने का तरीका सीखों। उन्होंने कहा कि जब अधिकारी से सही तरीके वार्ता नहीं कर पाते हो किसानों की शिकायत सही ही है। केन्द्र पर तीन हजार कुन्तल लक्ष्य के सापैक्ष मात्र 55 कुन्तल क्रय किया गया है। रजिस्टर की जांच करने पर पाया गया कि अब तक मात्र 19 व 21 अपै्रल को ही क्रय किया गया इसके बाद अभी तके केन्द्र पर गेहूॅ की खरीद नहीं की गयी है। केन्द्र मात्र एक कुर्सी है किसानों के बैठने की व्यवस्था नहीं की गयी है, पेयजल की व्यवस्था सही पाया गया, छलना पाया गया परन्तु उसका प्रयोग कभी किया गया है। इस अवसर पर कृषक जटाशंकर सिंह ग्राम दामोदर पुर तथा चन्द्र शेखर सिंह ग्राम मझंवा ने बताया िकइस केन्द्र पर वे सब दो बार आये केन्द्र प्रभारी वापस कर दिये। जिलाधिकारी ने कडी फटकार लगाते हुये कल से ही क्रय करने का निर्देश दिया। उन्होंने आर0एफ0सी0 से केन्द्र प्रभारी पर कार्यवाही करने के लिये भी कहा। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी केन्द्रों पर गेहूॅ की खरीद किया जाये कोई भी किसान अपने गेहूॅ को लेकर केन्द्र से वापस नहीं जायेगा यदि आगे से ऐसा कहीं पाया जाता है केन्द्र के विरूद्ध निलम्बन की कार्यवाही की जायेगी।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.