अधिकारियों का वेतन रोकने का निर्देश – जिलाधिकारी अनुराग पटेल

मीरजापुर 1 मई 2018 ( जिलाधिकारी अनुराग पटेल की अध्यक्षता में तहसील चुनार में सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। सम्पूर्ण समाधान दिवस में अधिशासी अभियन्ता सिचाई खण्ड चुनार तथा अधिशासी अभियन्ता लघु सिचाई खण्ढ चुनार के बिना किसी कारण बतायें अनुपस्थित रहने पर दोनो अधिकारियों का वेतन रोकने का निर्देश जिलाधिकारी ने दिया। इसी प्रकार अधिशासी अभियन्ता विद्युत वितरण खण्ड चुनार को तहसील दिवस में देर से आने एवं आगे से समय से आने की चेतावनी दी गयी। तहसील दिवस में ग्राम बरईपुर में लगभग एक दर्जन पट्टाधारक महिलायों द्वारा जिलाधिकारी से मुलाकात कर दिये गये पट्टे पर पैमाइश कराकर कब्जा दिलाने की मांग पर जिलाधिकारी ने तहसीलदार को निर्देशित करते हुए कहा कि शनिवार को कानूनगो व लेखपाल पुलिस बल के साथ बरईपुर गांव में जाकर दिये गये आवंटित सभी पट्टाधाराको को पैमाइश कराकर उसी दिन कब्जा दिलाने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने कहा कि सम्पूर्ण समाधान दिवस चुनार में लगभग 99 प्रतिशत शिकायते राजस्व से सम्बन्धित पाये गये जिसमे चकरोड पर अतिक्रमण अवैध जमीनो पर अतिक्रमण आदि से सम्बन्धित है। उप जिलाधिकारी कार्य योजना एवं टीम बनाकर राजस्व से सम्बन्धित मामलो का निस्तारण अभियान चलाकर सुंनिश्चित कराये। उन्होने कहा कि मनरेगा में कार्यरत मजदूरो का भुगतान सभी खण्ड विकास अधिकारी समय से कराना सुनिश्चित कराये। जिलाधिकारी के निर्देश पर तहसील परिसर में पान व गुटका खाने वालो के विरूद्ध मुख्य चिकित्साधिकारी के द्वारा अभियान चलाकर चालान काटा गया। प्रभारी अधिकारी तम्बाकू एवं गुटका नियंत्रण प्रकोष्ट डा0 राजेश ने बताया कि तहसील परिसर में पान व गुटका खानो वाले दस लोगो का चलान कर 620 रू0 जुर्माना राशि वसूल की गयी।

जिलाधिकारी अनुराग पटेल ने पिछले तहसील दिवस की समीक्षा की जिसमें अधिशासी अभियन्ता सिचाई खण्ड चुनार के तीन, खण्ड विकास अधिकारी जमालपुर, के चार, राजस्व निरीक्षण जमालपुर, एस0 ओ0 जमालपुर, नायक तहसीलदार सर्वे तथा ए0बी0एस0ए0 जमालपुर से सम्बन्धित एक-एक मामले लम्बित पाये गये। सम्बन्धित अधिकारियों से दो दिन में निस्तारण कर निस्तारण आख्या तहसील में उपलब्ध कराने का निर्देश दिया।जिलाधिकारी द्वारा तीन राजस्व मामलो में कानून व लेखपाल गांव में भेजकर आज ही निस्तारण करने का निर्देश दिया। उन्होने कहा कि दिये गय ेपट्टे पर पैमाइश कर कब्जा दिलाने के बाद भी दुबारा कब्जा करने की शिकायते प्राप्त हो रही है ऐसे मामलो में तत्काल पट्टेधारक को कब्जा दिलाया जाये तथा दोष्ी व्यक्ति पर कडी कार्यवाही की जाये। जिलाधिकारी ने कहा कि जनता की समस्याओ का त्वरित व गुणवत्तापूर्ण निस्तारण हो सके इसी उद्देश्य से शासन द्वारा सम्पूर्ण समाधन दिवस आयोजन किया जाता है अतः अधिकारी इसमे प्राप्त प्रार्थना पत्रो को गम्भीरता से लेते हुए गुणवत्तापूर्ण निस्तारण कराना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि शासन स्तर पर निस्तारित प्रकरणो का सत्यापन शिकायत कर्ताओ के मेाबाइल नमबर पर फोन किया जा रहा है, अतः किसी भी विभाग से सम्बन्धित शिकाायत पत्रो का निस्तारण गुणवत्तापूर्ण नही पाया जायेगा तो सम्बन्धित अधिकारी कर्मचाीर के विरूद्ध कडी कार्यवाही की जायेगी। आज चुनार तहसील में कुल प्राप्त 145 प्रार्थना पत्रो में से सात प्रार्थना पत्रो का मौके पर निस्तारण किया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि प्राप्त प्रार्थना पत्रो को एक सप्ताह के अन्दर अथवा विशेष परिस्थिओं में पन्द्रह दिन के अन्दर गुणवत्तापूर्ण निस्तारण सुनिश्चित कराये। तहसील दिवस के बाद जिलाधिकारी ने चुनार तहसील के बार एशोसिएशन के पदाधिकारियों से मुलाकात कर उनकी समस्याओ को भी सुना तथा निस्तारण का आश्वासन दिया। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 ए0के0 उपाध्याय, उप जिलाधिकारी अविनाश त्रिपाठी, डी0एफ0 ओ0 परियोजना निदेशक डा0 हरिचरन सिंह, उप निदेशक कृषि, ए0के उपाध्याय, के अलावा सभी विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.