माँ और ममता का अटूट संयोग-MIRZAPUR

9453821310-मदर्स डे के पूर्व संध्या पर आज मिर्जापुर गणेश गंज स्थित सरस्वती शिशु बाल मंदिर में बच्चों व उनकी माताओ की उपस्थिति में बड़ा ही धूमधाम से मनाया गया |मां के प्रेम और मां की ममता पर प्रकाश डालते हुए तमाम बच्चों के द्वारा कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए स्कूल की संचालिका प्रगति जायसवाल ने मां को भगवान तुल्य बताया साथ ही साथ भगवान की तुलना मां से करते हुए कहां की माँ ही अपने बच्चों के लिए अपार प्रेम की वर्षा करती है |बेटा चाहे जितना बड़ा हो जाय पर माँ हमेशा उसको कुछ न कुछ सिखाती रहने का प्रयास करती रहती है |माँ बच्चों की प्राथमिक शिक्षिका ही नहीं बल्कि जीवन भर की होती है |मां जैसा कोई दूसरा हो ही नहीं सकता जहां-जहां भगवान की आवश्यकता पड़ती है वहां साक्षात मां भगवान् का प्रतिनिधित्व करती हैं ,और बच्चों के समस्त बाधा के हरण के लिए सदैव तैयार रहती हैं |कार्यक्रम के बेहतर संचालन में स्कूल की स्टाफ राखी, रोमा, हरीश, पवन, शिवानी ,मुस्कान, हसन ,सोनम, साधना, रिशु ,दीक्षा, करिश्मा के साथ अन्य लोगों का भी महत्वपूर्ण भूमिका रहा |आए हुए छात्रों के माताओं का स्कूल प्रांगण में विशेष सम्मान के साथ तिलक लगाकर उनका स्वागत किया गया |समूचे विद्यालय प्रांगण में झालर, क्रिसमस ट्री व मां की ममता पर लिखा हुआ स्लोगन बहुत ही सुंदर तरीके से लगाया वह सजाया गया था |विद्यालय प्रबंधक ने बताया कि निरंतर बच्चों के चौमुखी विकास के लिए तमाम अवसरों को दिवसों को मनाया जाता है ,इससे बच्चे सामाजिक ज्ञान प्राप्त करने के अलावा सामाजिक गतिविधियों के प्रति भी उनका रुझान बढ़ता है |साथ ही साथ मां के प्रति भी बच्चों का प्रेम और बेहतर होता है बच्चे अपनी मां को और अच्छे से समझ पाते हैं जिससे बच्चों और माताओं के बीच अनुकूल वातावरण के साथ समूचे घर का वातावरण सुखमय बना रहता है|

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.