पुलिस की गुंडई से व्यापारी वर्ग हैरान-व्यापार मंडल MIRZAPUR

उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर पुलिस की दबंगई और गुंडई से एक बार फिर व्यापारी डरे सहमें व सदमे में है। दिनांक 23/5/2018 को दोपहर में मिर्जापुर सिटी कोतवाली की पुलिस एक पक्षीय कार्रवाई करते हुए मेटल के व्यापार को बंद कराने के उद्देश्य से बिना किसी न्यायिक आदेश के किशुन प्रसाद की गली स्थित बी के ब्रदर्स नामक फर्म को बन्द कराने पहुंच गई ।पुलिस की तानाशाही रवैया से अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के साथ साथ स्थानीय निवासी भी दहल उठे । व्यापार मंडल के अध्यक्ष ने आरोप लगाते हुए कहा कि व्यवसाय को उजाड़ने व उसको बंद कराने का पुलिसिया आदेश देकर व्यापारियों में दहशत पैदा करने की नापाक इरादे रखने वाली पुलिस के खिलाफ आवश्यकता पड़ी तो मिर्ज़ापुर कलेक्ट्रेट में धरना प्रदर्शन किया जाएगा।कहा कि यूपी सरकार को बदनाम करने में लगी मिर्जापुर सिटी कोतवाली पुलिस का किसी के व्यावसायिक परिसर में घुसकर तांडव करने करने से पुलिस की कार्यप्रणाली एक बार पुनः कटघरे में आ जाती है | ज्ञात हो कि उक्त विवादित परिसर का मामला न्यायालय में विचाराधीन होने के बावजूद न्यायालय के आदेश के बिना पुलिस ने काम कर रहे कारीगरों को भगाने का जो कार्य किया है यह घटना कैमरे में कैद होने के बाद पुलिस मौके से खिसकती नजर आई मगर यह सवाल लोग जानना चाहते हैं कि पुलिस को फैसला देने का अधिकार किस धारा में निहित है।इस सन्दर्भ में सिटी कोतवाल ने बताया की जो भी जानकारी चाहिए थाने पर आइये दिया जाएगा फ़ोन से नहीं |मंडल के पधाधिकारियों ने पुलिस कप्तान से मिलने का मन बनाया है उनसे मिलकर न्याय की गुहार लगाएजाने का निर्णय लिया गया है|

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.