समाचारपेंशनरों को आयकर से मुक्त किया जाए-डीएन प्रसाद विश्वकर्मा

पेंशनरों को आयकर से मुक्त किया जाए-डीएन प्रसाद विश्वकर्मा

9453821310-उत्तर प्रदेश पेंशनर्स कल्याण जनपद शाखा मिर्जापुर के प्रथम जनपदीय अधिवेशन में सैकड़ों की संख्या में रिटायर्ड कर्मचारी उपस्थित रहे। पेंशनर्स ने प्रांत स्तर पर व स्थानीय स्तर पर सदन द्वारा कुल 16 प्रकार की मांग रखी जिसमें –
1. सभी राज्यों में सक्षम रूप से सातवें वेतन आयोग की संस्तुतियों को 1/1 /2016 से लागू करना तथा एरियर का भुगतान।
2. आयु आधारित पेंशन-
65 से 70 वर्ष 15%
70 से 75 वर्ष 25%
75 से 80 वर्ष 35%
80 से 85 वर्ष 45%
85 से 90 वर्ष 60%
90 से 95 वर्ष 75%
95 से अधिक100%
3. पेंशन राशि कर्ण की कटौती 15 वर्ष के स्थान पर 12 वर्ष किया जाए।
4. पेंशन की 50% से बढ़ाकर 67 प्रतिशत तथा पारिवारिक पेंशन 30% से बढ़ाकर 50% किया जाए।
5. चिकित्सा भत्ता सभी को समान रूप से रुपया 1000/- प्रतिमा दिया जाए।
6. निशुल्क चिकित्सा सुविधा लागू किया जाए।
7. नई पेंशन प्रणाली को हटाकर पुरानी पेंशन व्यवस्था पूर्वक लागू किया जाए।
8. पेंशनरों के लिए एक रैंक एक पेंशन लागू किया जाए।
9. पेंशनरों को आयकर से मुक्त किया जाए।
10. राष्ट्रीय पेंशन नीति की व्यवस्था किया जाए।
11. 17 दिसंबर को राष्ट्रीय पेंशनर्स दिवस घोषित किया जाए तथा राज्य एवं जिला स्तर पर पेंशनर्स सलाहकार समिति का गठन किया जाए।
12. भ्रमण एवं तीर्थ यात्रा के लिए प्रतिवर्ष 1 माह की पेंशन के बराबर राशि का भुगतान किया जाए।
13. सातवां वेतन आयोग द्वारा निर्धारित उपादान उच्चतम धनराशि रुपए 20 लाख से बढ़ाकर 30लाख किया जाए।
14. अधिकारी /कर्मचारी की जन्म तिथि 1 जुलाई है तथा 1 साल की सेवा सत्यापित होने के बाद भी उन्हें एक वेतन वृद्धि के लाभ से वंचित किया जा रहा है उन्हें एक वेतन वृद्धि का लाभ दिया जाए।
15. राज्य के समस्त कोषागार कार्यालयों में पेंशनर (महिला /पुरुष) को बैठने हेतु एक सुव्यवस्थित कमरे का प्रबंध किया जाए।
16. राज्य के समस्त कोषागार को निर्देश दिए जाएं कि उनके कार्यालय द्वारा समस्त पेंशनरों को डिजिटल परिचय पत्र दिया जाए।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं