समाचारजिलाधिकारी ने किया बाल गृह में गुणवक्तापूर्ण शिक्षा डिजिटल लर्निंग सेंटर का...

जिलाधिकारी ने किया बाल गृह में गुणवक्तापूर्ण शिक्षा डिजिटल लर्निंग सेंटर का शुभारंभ

मीरजापुर। 11 जनवरी 2019 जिलाधिकारी अनुराग पटेल ने शुक्रवार को ज्ञानोदय बाल एवं महिला मल्याण समिति, बाल गृह बालिका पक्का पोखरा, मीरजापुर में गुणवक्तापूर्ण शिक्षा डिजिटल लर्निंग सेंटर का उद्द्याटन किया। इस दौरान जिलाधिकारी ने सेंटर की उपयोगिता पर प्रकाश डालते हुए कहा कि इअसके माध्यम से जीवन की प्रक्रियाएं और पोषण की जहां जानकारी प्राप्त होगी वहीं सेंटर में रह रही बालिकाओं के शिक्षा और पोषण में भी काफी सुगमता होगी। महिला कल्याण विभाग द्वारा संचालित बाल गृह में आधुनिक संचार माध्यमों की उपलब्धता को जिलाधिकारी ने आवश्यक बताया। कहा कि डिजिटल लर्निंग के माध्यम से सेंटर की बालिकाओं को शिक्षा ग्रहण करने में काफी सुगमता प्राप्त होगी। उवहीं उनका उन्नयन विकास भी संभव हो पायेगा। इस दौरान संस्था की स्थानीय इंचार्ज ने सेंटर में दस वर्ष की आयु से 18 वर्ष की आयु की बालिकाएं रखी जाती हैं। निराश्रित बालिकाओं के देखभाल एवं संरक्षण के लिए बाल कल्याण समिति के माध्यम से उन्हें यहां रखा जाता है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में यहां कुल आवासित बालिकाओं की संख्या 193 तथा घर वापसी कराई गई बालिकाओं की संख्या 173 रही है। इसी प्रकार अन्य संस्था में स्थानान्तरित कराई गई बालिकाओं की संख्या 05 रही है। यहां मीरजापुर मंडल से, इलाहाबाद जनपद, वाराणसी जनपद, कानपुर, बिहार, राजस्थान, हरियाण, आन्ध्र प्रदेश से बालिकाएं आ चुकी हैं। इस मौके पर सेंटर की बालिकाओं ने सरस्वती वंदना के साथ कविता इत्यादि प्रस्तुत कर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। जिसकी जिलाधिकारी ने भी प्रसंशा करते हुए बालिकाओं का हौसला अफजाई किया है। लोकगीत गायक राजाराम एण्ड पार्टी ने सरस्वती वंदना के साथ लोकगीत प्रस्तुत किया। इस दौरान जिलाधिकारी अनुराग पटेल ने बालिकाओं को डिक्सनरी, मैप, कम्प्यूटर चार्ट सहित अन्य पठनीय सामाग्री भेंट कर बालिकाओं को स्वालंबी और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। इस मौके पर जिला प्रोवेशन अधिकारी सहित संस्था से जुुड़े लोग उपस्थित रहे।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं