समाचारसीसीयू में मरीजों को समस्त सेवाएं नि:शुल्क उपलब्ध होंगी: अनुप्रिया पटेल-MIRZAPUR

सीसीयू में मरीजों को समस्त सेवाएं नि:शुल्क उपलब्ध होंगी: अनुप्रिया पटेल-MIRZAPUR

मिर्जापुर में खुला पूर्वांचल का पहला ‘कॉर्डियक केयर यूनिट’

-केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल ने शनिवार को जनता को किया समर्पित

-सीसीयू में मरीजों को समस्त सेवाएं नि:शुल्क उपलब्ध होंगी: अनुप्रिया पटेल, केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री

मिर्जापुर

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल के विशेष प्रयास से शनिवार को पूर्वांचल के मिर्जापुर जनपद स्थित मण्डलीय जिला अस्पताल में ‘कॉर्डियाक केयर यूनिट’ (सीसीयू) शुरू हो गया। पूर्वांचल में यह पहला कॉर्डियक केयर यूनिट है, जिसे मण्डलीय चिकित्सालय में स्थापित किया गया है। खास बात यह है कि यह यूनिट महज 11 महीने ही बन कर तैयार हो गया।

इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा कि मिर्जापुर के मरीजों को अभी तक हार्ट अटैक अथवा अन्य गंभीर हृदय रोग की आकस्मिक स्थिति में प्रयागराज अथवा वाराणसी जाना पड़ता था, जिसमें कई बार परिवहन सुविधा में देरी के कारण मरीजों को दुष्परिणाम झेलना पड़ता था, लेकिन अब आशा है कि हम निश्चित रूप से ऐसी स्थितियों को काफी हद तक रोक पाएंगे।

केंद्रीय मंत्री श्रीमती पटेल ने कहा कि दुनिया में सलाना होने वाली 570 लाख मौतों में से 360 लाख मौतें या 63 प्रतिशत मृत्यु गैर संचारी रोगों मुख्यतौर पर हृदय रोग, डायबिटीज, कैंसर और पुरानी सांस की बीमारियों के कारण होती है। इन बीमारियों के मामले में भारत में स्थिति और भयावह है। ऐसे में केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत जनसमुदाय को निरंतर गुणवत्ता पूर्ण आकस्मिक एवं गहन चिकित्सा सेवा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से मिर्जापुर जनपद के निवासियों के जीवन रक्षा हेतु मण्डलीय जिला चिकित्सालय में कॉर्डियक केयर यूनिट की स्थापना किया गया है।

सीसीयू की आवश्यकता:

चूंकि हार्ट अटैक के मरीज को एक घंटे के अंदर दवाओं और उपकरणों की सहायता से ठीक किया जा सकता है और हृदय की मांस पेशियां नष्ट होने से बच सकती हैं, अन्यथा मरीज की जान जा सकती है। इसी उद्देश्य से जनपद में लगभग 1.50 करोड़ रुपए की लागत से कॉर्डियक केयर यूनिट की स्थापना की गई है। मण्डलीय जिला अस्पताल में पहले से निर्मित भवन में ही इस धनराशि के जरिए आवश्यक चिकित्सा उपकरण एवं अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं।

केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा कि सीसीयू में समस्त सेवाएं मरीजों को पूर्णतया नि:शुल्क दी जाएंगी। इसके लिए किसी भी प्रकार का यूजर चार्ज नहीं लिया जाएगा। यहां पर 2 डी.कलर डाप्लर ईको मशीन, एम्बुलेटरी बी.पी. मशीन, डिफैर्बिलेटर, सीसीयू बेड, इनफ्यूजन पम्प, सेंट्रल मॉनीटरिंग स्टेशन, सेंट्रल ऑक्सीजन सप्लाई, ऑक्सीजन कंस्टेटर, पोर्टबल एक्सरे, वेंटीलेटर मशीन की भी सुविधा उपलब्ध है।

यहां पर 2 डी.कलर डाप्लर ईको मशीन के माध्यम से दिल के आकार का निर्धारण किया जाता है। हृदय के वाल्व की संरचना एवं कार्य का पता लगाया जा सकता है।

एम्बुलेरी बी.पी. मशीन के जरिए मरीज की लगातार 24 घंटे या अधिक समय तक ब्लड प्रेशर की जांच की जाती है। डिफैर्बिलेटर के जरिए आकस्मिक स्थिति में विद्युत तरंगों के माध्यम से हृदय को झटका प्रदान कर जीवन रक्षा किया जा सकता है। यहां पर उच्च कोटि का 5 फोल्डिंग हाइड्रोलिक बेड की व्यवस्था की गई है। इनफ्यूजन पम्प से मरीज के शरीर में नियंत्रित मात्रा में पोषक तत्वों एवं दवाओं की निरंतर सप्लाई सुनिश्चित किया जा सकेगा। सेंट्रल मॉनीटरिंग स्टेशन के जरिए प्रत्येक बेड के मरीजों की स्थिति को एक ही स्थान पर एक ही साथ लगातार मॉनीटर किया जा सकेगा।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं