समाचारजिलाधिकारी की नजर जर्जर निरीक्षण भवन पर पडीे और आज निरीक्षण गृह...

जिलाधिकारी की नजर जर्जर निरीक्षण भवन पर पडीे और आज निरीक्षण गृह का दिन भी बहुर गया-MIRZAPUR

एक अरब 35 लााख से होगा धनरोल बांध का जीर्णोद्धार- मीरजापुर का भी होगा फायदा -अनुप्रिया पटेल

मोहनपुर पहडी के निरीक्षण गृह के बहुरे दिन – केन्द्रीय मंत्री ने किया शिलान्यास

जीर्णोद्धार के लिये जिलाधिकारी ने दिया 25 लाख 30 हजार की धनराशि

मीरजापुर, 23 फरवरी, 2019- केन्द्रीय मंत्री परिवार कल्याण एवं स्वास्थ्य अनुप्रिया पटेल ने कहा कि किसानों के सिंचाई व्यवस्था को सुदृढ बनाने के लिये धनरौल बांध का जीर्णोद्धार कराया जायेगा इसके लिये काफी दिनों से प्रयास के बाद उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा एक अरब 35 लाख रूपये की स्वीकृति प्रदान करते हुये सिचंाई मंत्री उ0प्र0 के द्वारा 14 करोड रूपये की स्वीकृति भी प्रदान कर दी गयी हैं मंत्री ने कहा कि धनरौध बांध को पूरी क्षमता से चलाने के लिये सोनभद्र व मीरजापुर के किसानों के द्वारा काफी दिनों से मांग की जा रही थी। उन्होंने कहा कि इस बांध के पूरी क्षमता से चालू हो जाने से मीरजापुर के किसान का सिंचाई कर सकेगें।

केन्द्रीय मंत्री आज पूर्वाह्न 11 बजे पहाडी विकास खण्ड के गांव मोहनपुर पहडी में स्थित लगभग 100 वर्ष पुराने जर्जर निरीक्षण के जीर्णोद्धार के लिये शिलान्यास कर रही थी। उपस्थित ग्रामीणों को मंत्री ने कहा कि भारत सरकार व उ0प्र0 सरकार के द्वारा यह फैसला लिया गया था कि जर्जर पडे भवनों,निरीक्षण गृहों व अधूरें कार्यो को पूर्ण कराया जायेगा। उसी क्रम में लगभ 14 वर्ष से अधूरा पडे भटौली व चुनार गंगा नदी पर पक्का पुल का निर्माण पूर्ण कराया गया। उन्होंने कहा कि किसी काम पर केवल किसी की नजर पडने की आवश्यकता है, जिलाधिकारी की नजर जर्जर निरीक्षण भवन पर पडीे और आज इस पुराने जर्जर निरीक्षण गृह का दिन भी बहुर गया। उन्होंने जिलाधिकारी सहित खान अधिकारी का भी आभार प्रकअ किया जो जिला खनिज निधि से उनके द्वारा 25 लाख 30 हजार रूपये की धनराशि जीर्णोद्धार के लिये प्रदान किया गया। उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियन्ता राज कुमार वर्न को निर्देशित किया कि गुणवत्ता पूर्ण कार्य कराया जाये तथा बाउड््रीवाल स्वयं के मद निर्माण करायें। उन्होंने हाइवे पर निर्मित इस भवन में जिलाधिकारी अधिकारियों के साथ व बैंठक करें ताकि इसकी महत्वा बनी रहे।इसकेक चारों तरफ हरियाली के लिये पेड पौधे भी लगाये जाये। कहा कि यहां पर बोरिंग में पानी नहीं मिल रहा था परन्तु सिंचाई विभाग के द्वारा एक बोरिंग कराया गया उसमें काफी में पानी मिल गया है, उसमें पम्प लगाकर डाकबब्ले के साथ ही सााि यहां के आस-पास के ग्रामीणों को पेयजल हेतु पानी की आपूर्ति की जायेगी। उन्होंने यह भी बताया कि बिरोहिया पिकपवीयर के लिये भी सरकार के द्वारा 9 करोड 35 लाख की स्वीकृति प्रदान कर दी गयी हैं मंत्री ने कहा कि मीरजापुर में चहुमुखी विकास का प्रयास किया गया है आगे भी विकास कर मीरजापुर को प्रदेश के पटल पर स्ािापित किया जोयगा।

इस अवसर पर जिलाधिकारी अनुराग पटेल ने बताया कि सोनभद्र व मीरजापुर के रास्ते पर यहा ंपर एक भी निरीक्षण गृह रोड पर न होने से काफी परेशानी होती थी इसके मरम्मत से लोगो को सुविधा होगा। उन्होंने कहा कि मुत्री के प्रयास से जनपद का काफी चर्तुमुखी विकास हुआ चाहे वह मेडिकल कालेज, केन्द्रीय विदयालय , डायलेसिस सेन्टर, हार्ट केयर सेन्टर, सडकों का निर्माण आदि बडे कार्य कराये गये हैं। जो जनता के लिये काफी लाप्रद होगा। उन्होंने बताया कि जिला खनिज निधि से 25 लाख 30 हजार रूप्या स्व्ीकृति दी गयी है वाउड्ीवाल का निर्माण सिंचाई विभाग करायेगा। इस अवसर पर जिला अध्यक्ष अपना दल रमाकान्त पटेल ने मा0 मंत्री के द्वारा कराये गये विकास कार्यो के बारे विस्तृत जानकारी दी। मंच का संचालन हरी शंकर सिंह पटेल ले किया। इस अवसर पर लाल मिश्रा, ग्राम प्रधान कमलेश कुमार,, उप जिलाधिकारी सदर आशुतोष दूबे, अधिशासी अभियन्ता राज कुमार वर्न के अलावा अन्य लोग उपस्थित रहे। मंत्री के द्वारा जिला प्रशासन के सहयोग से गरीब महिलाओं को कम्बल भी वितरित किया गया।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं