समाचारसंविधान निर्माता बाबा साहब डॉ.भीर राव अम्बेडकर याद किए गए-MIRZAPUR

संविधान निर्माता बाबा साहब डॉ.भीर राव अम्बेडकर याद किए गए-MIRZAPUR

उत्तर प्रदेश के नगर विकास राज्यमंत्री गिरीश चंद यादव ने कहा है कि भाजपा ने पिछड़ों का हमेशा ख्याल रखा है। उन्होंने कहा कि पिछड़ों के हितों की रक्षा के लिए ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए सरकार ने राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक मंजूरी दिलाई। रविवार को मिर्जापुर जनपद के राजगढ़ क्षेत्र के किसान इंटर कॉलेज में भारतीय जनता पार्टी पिछड़ा वर्ग की ओर से आयोजित विजय लक्ष्य सम्मेलन को मुख्य अतिथि के तौर पर संबोधित करते हुए गिरीश चंद यादव ने यह बात कही। सम्मेलन में विशिष्ट अतिथि के तौर पर मिर्जापुर संसदीय क्षेत्र से भाजपा, अपना दल (एस) और निषाद पार्टी की संयुक्त प्रत्याशी एवं केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल भी उपस्थित थीं। कार्यक्रम की अध्यक्षता भाजपा के जिलाध्यक्ष ब्रजभूषण सिंह एवं पिछड़ा मोर्चा के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष संजय भाई पटेल ने संचालन किया। इस मौके पर सभी सम्मानित अतिथियों एवं पदाधिकारियों ने संविधान निर्माता एवं वंचितों के मसीहा बाबा साहब डॉ.भीम राव अम्बेडकर को श्रद्धांजलि दी और उन्हें याद किया।
उत्तर प्रदेश के नगर विकास राज्यमंत्री गिरीश चंद्र यादव ने कहा कि पिछड़ों के हितों की रक्षा के लिए पिछड़ा वर्ग विकास प्राधिकरण बनाकर समाज के विकास में अतुल्य पहल की गई है। केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा कि पिछड़ा वर्ग को कांग्रेस ने सदैव वोटबैंक समझा है। इसलिए कांग्रेस ने पिछड़ों के उत्थान के लिए कार्य नहीं किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए सरकार और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में पिछड़ों के विकास के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएं लागू की गई हैं। इसी के तहत राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक मंजूरी दिलाई गई। इस बाबत हमने सड़क से लेकर संसद तक संघर्ष किया। इसके अलावा हमने उच्च शिक्षण संस्थानों में 13 सूत्री रोस्टर सिस्टम के खिलाफ आवाज उठाते हुए फिर से 200 सूत्री रोस्टर सिस्टम को लागू करने का पुरजोर ढंग से आवाज उठायी। केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा कि उनकी मांगों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए सरकार ने गंभीरता से लेते हुए अध्यादेश लाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी।
भाजपा के जिलाध्यक्ष ब्रजभूषण सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पिछड़ा वर्ग के लिए सर्वाधिक कार्य किए गए। इसी वजह से 2017 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में 32 प्रतिशत पिछड़ी जाति के विधायक चुने गए।
इस अवसर पर मझवां विधायक सुचिस्मिता मौर्या, नगर पालिक अध्यक्ष मनोज जायसवाल, लोकसभा संयोजक वृंदा प्रसाद विश्वकर्मा, प्रदेश कार्य समिति के सदस्य लाल बहादुर सिंह, अपना दल के प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र पाल, दिनेश वर्मा, कृष्ण कुमार तिवारी, धर्मराज पटेल, जयसिंह, उत्तर मौर्या, राजबहादुर सिंह, राजेंद्र सिंह पटेल, प्रदीप सोनकर, अमित सिंह, विरेंद्र प्रताप यादव, बाबू राम गुप्ता, जगदीश सिंह, प्रियंका सिंह , संतोष दूबे, रावत पांडेय, संतोष तिवारी , रायचंद्र दूबे , श्याम सुंदर, संजय यादव, कौशल आदि भाजपा एवं अपना दल (एस) के वरिष्ठ पदाधिकारी लोग उपस्थित थे।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं