समाचारसपा के कद्दावर नेता व पुलिस आमने सामने -MIRZAPUR

सपा के कद्दावर नेता व पुलिस आमने सामने -MIRZAPUR

सपा बसपा व रालोद के संयुक्त प्रत्याशी रामचरित्र निषाद के नामांकन के दौरान सपा के कद्दावर नेता व पुलिस आमने सामने होती दिखाई दी । थोड़ी देर के लिए नेता अपने में और पुलिस अपने पर उतर आई। नामांकन के लिए जिला कलेक्ट्रेट के प्रवेश द्वार नंबर वन पर पुलिस की कड़ी मुस्तैदी व चाक चौबंद व्यवस्था के चलते किसी भी पार्टी की तरफ से अनाधिकृत व्यक्ति , निर्धारित व्यक्ति से अतिरिक्त व्यक्तियों के प्रवेश पर सख्ती की जा रही थी ।इसी दौरान सपा बसपा रालोद संयुक्त प्रत्याशी के नामांकन के वक्त जुलूस आने के पहले समाजवादी पार्टी के विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी रोहित शुक्ला व राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त मुन्नी यादव किसी प्रकार से प्रवेश द्वार गेट नंबर वन से अंदर आ गए। सुरक्षा में खड़े पड़री थाना प्रभारी ने तत्काल अपने दल बदल के साथ विनंती पूर्वक इन दोनों बड़े सपा नेता से बाहर जाने के लिए कहा जिस पर सपा के अन्य जुलूस में शामिल समर्थक भी पुलिस से उलझना शुरू कर दिए । जिसमें शाहिद सिद्दीकी इंस्पेक्टर पड़री थाना की धक्का मुक्की में टोपी भी गिरी । लेकिन पुलिस ने संयम का परिचय देते हुए मामले को शांत कराया एवं दोनों बड़े नेताओं को पकड़कर गेट के बाहर किया । नामांकन करने के पश्चात रामचरित्र निषाद ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि बीजेपी में पिछड़ों का सम्मान नहीं है सपा बसपा में हम जैसे पिछड़ों का सम्मान है जिसकी बदौलत हमें टिकट मिला है ।यह पूछे जाने पर कि सपा ने राजेंद्र एस बिंद का टिकट देने के बाद टिकट काट कर अपमान नहीं किया ? तो इसके जवाब में राम चरित्र निषाद ने कहा कि राजेंद्र एस बिंद हमारे भाई हैं लेकिन यह पार्टी का फैसला है। रामचरित्र निषाद ने कहा कि भाजपा कार्यकाल के दौरान अनुप्रिया पटेल से रिश्ते अच्छे थे। एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने यह भी कहा कि सपा बसपा और रालोद के अच्छे संगठन के चलते मिर्जापुर में चुनाव हम जीतेंगे और मिर्जापुर का विकास ही हमारा मुख्य मुद्दा है।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं