समाचारऔद्योगिक विकास एवं उत्पादकता को बढ़ाने में श्रमिकों की बड़ी भूमिका-MIRZAPUR

औद्योगिक विकास एवं उत्पादकता को बढ़ाने में श्रमिकों की बड़ी भूमिका-MIRZAPUR

मिर्जापुर, 1 मई ‘विकास, औद्योगिक विकास एवं उत्पादकता को बढ़ाने में श्रमिकों की बड़ी भूमिका रही है और आगे भी रहेगी। श्रमिकों की मेहनत और ताकत का ही परिणाम है कि हर क्षेत्र में चहुंमुखी विकास का सपना साकार हो रहा है।’
केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा, अपना दल (एस) व निषाद पार्टी की संयुक्त प्रत्याशी अनुप्रिया पटेल ने बुधवार को खटिक महासंघ के अध्यक्ष जोखूराम सोनकर से मुलाकात के दौरान यह बात कही। इस मौके पर केंद्रीय मंत्री ने ‘प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना’ का लाभ उठाने के लिए जोखूराम सोनकर से अधिक से अधिक लोगों को जागरूक करने की अपील कीं। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा कि ‘प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना’ का लाभ उठाने के लिए अधिक से अधिक संख्या में लोग पंजीकरण जरूर कराएं। उन्होंने जनपद के प्रबुद्ध लोगों से अपील की कि अपने घर के आसपास लोगों को इस बाबत जागरूक करें।
केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा कि सही मायने में देश और समाज का पूर्ण रूप से विकास तभी हो सकता है, जब समाज के अंतिम पायदान पर खड़ा व्यक्ति का परिवार भी खुशहाल हो। उसके बच्चे भी खुशहाल पूर्वक जीवन व्यतीत कर सकें। प्रधानमंत्री ने जहां उज्जवला योजना के तहत हमारी माताओं-बहनों को धुएं से आजादी दी है, वहीं आयुष्मान भारत योजना के तहत एक स्वस्थ भारत का निर्माण करने की पहल शुरू की है। इसी तरह प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि जैसी महत्वपूर्ण योजना के जरिए प्रधानमंत्री हमारे किसान भाईयों के लिए एक नई आशा की किरण लेकर आए हैं। किसान भाईयों की मूलभूत जरूरतों के लिए सरकार सीधे उनके खाते में सलाना 6000 रुपए जमा करेगी। सरकार और किसान के बीच किसी बिचौलिए की जरूरत नहीं पड़ेगी।
योजना का लाभ:
केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा कि इसके तहत उन सभी असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले कारीगरों और मजदूरों को 60 साल की उम्र पार करने के बाद कम से कम 3000 रुपए प्रतिमाह पेंशन दी जाएगी, जिनकी मासिक आमदनी 15 हजार रुपए अथवा इससे कम है।
इस योजना की सबसे बड़ी खासियत यह है कि आपको मात्र 55 रुपए प्रतिमाह बैंक में जमा करने होंगे। जितनी राशि आप खाते में जमा करेंगे, उतनी ही राशि सरकार भी आपके खाते में जमा करेगी। यदि आप 18 साल की उम्र में योजना के लिए पंजीकरण कराते हैं तो आपको प्रतिमाह महज 55 रुपए जमा करने होंगे, लेकिन यदि आपकी उम्र 29 साल है तो आपको प्रतिमाह 100 रुपए जमा करने होंगे और यदि आपकी उम्र 40 साल है तो प्रतिमाह आपको 200 रुपए प्रतिमाह जमा करने होंगे। इसके लिए कामगारों व मजदूर भाईयों को केवल आधार कार्ड की प्रति और बैंक खाता की प्रति जमा करनी होगी।
इन्हें मिलेगा लाभ:
इसके अंतर्गत लघु एवं सीमांत किसान, किसान मजदूर, रिक्शाचालक, ऑटो चालक, नाई, धोबी, सब्जीवाला, सफाई मजदूर, हाकर्स, घरेलू कामगार, दूध, फल, सब्जी बेचने वाला, पटरी दुकानदार, दुकानों पर काम करने वाले मजदूर, आर्शा बहनें, आंगनवाड़ी कार्यकत्र्ता, रसोईया, होमगार्ड्स, पीआरडी जवान, ड्राईवर, ईंट-भट्‌ठा पर काम करने वाले मजदूर, बीड़ी बनाने वाले, कूड़ा बीनने वाले, निर्माण श्रमिक, कैमरामैन, लाईटमैन, आभूषण बनाने वाले, चाय बनाने वाले, पशु पालन करने वाले, मछली पालन करने वाले, मुर्गी पालन, बैण्ड बजाने वाले, बुनकर, हथकरघा कर्मकार, एवं इसी प्रकार के अन्य मानदेय पर तैनात कर्मचारी, श्रमिक एवं स्वरोजगार करने वाले नागरिकों को इस योजना का लाभ मिलेगा। समाज का ये ऐसा तबका है, जिसकी ओर अब तक किसी भी सरकार का ध्यान नहीं गया था। यह योजना भारतीय जीवन बीमा (एलआईसी) द्वारा लागू की जा रही है।
इस मौके पर रामकुमार विश्वकर्मा, शिवलाल सोनकर, उदय पटेल, अनिल कुमार सिंह इत्यादि पदाधिकारी उपस्थित थे।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं