समाचारआखिर क्यों सस्ते में भटौली का पूल बेचा गया-शशिधर गुप्ता

आखिर क्यों सस्ते में भटौली का पूल बेचा गया-शशिधर गुप्ता

मिर्जापुर कार्यालय अधिशासी अभियंता निर्माण खंड 2 लोक निर्माण विभाग मिर्जापुर कार्यालय में नोटिस बोर्ड पर मैसर्स जय मां विंध्यवासिनी स्क्रैप को ऑनलाइन प्रतिभाग कर के सफल होने वाले पहले फर्म के रूप में नाम चस्पा किया गया है। जानकारी के मुताबिक मिर्जापुर चुनार बालू घाट पुल से संबंधित निश प्रयोजन पड़े सामग्रियों की नीलामी में कुल छ फर्मो ने हिस्सा लिया था जिसमें सर्वाधिक बीडिंग कर के जय मां विंध्यवासिनी स्क्रैप ने सफलता प्राप्त की है |विभाग को भी इस प्रक्रिया के तहत नीलामी कराने पर लाखों रुपए का अतिरिक्त लाभ होने की बात कही जा रही है |बताया गया है कि इसके पूर्व में मिर्जापुर स्थित भटौली घाट पर निष्प्रयोजन पड़े पांटून प्लाटून,लोहे, के उन पुल की बिक्री बहुत ही सस्ते दामों पर हो गई थी |जिसकी नीलामी दिनांक ३१-५-१९ को KP कुशवाहा सहायक अभियंता प्रांतीय खंड लोक निर्माण विभाग मिर्ज़ापुर के समक्ष उनके उनके कैंप कार्यालय मिर्ज़ापुर में कराई जाने की बात बताई जा रही है | ज्ञात हो की भटौली घाट से प्राप्त हुई राशि चुनार बालू घाट के प्राप्त राशि की तुलना में बहुत ही कम है अतः विभाग के द्वारा भटौली घाट पर पडी निस्प्रयोजन पांटून पुल के नीलामी , टेंडर नीलामी की प्रक्रिया पर लोग तरह-तरह की बातें करते देखे वह सुने जा रहे हैं |जय मां विंध्यवासिनी स्क्रैप ने सामग्री का वास्तविक मूल्य लगाकर अन्य प्रतिभागियों को पछाड़ दिया है जिसके चलते विभाग को अपने सामग्री का बेहतर अधिक कीमत मिल पाया है। दिनांक 11 ,6,2019 को ई नीलामी खोली गई थी। इस नीलामी प्रक्रिया में कुल छह फर्मों ने भाग लिया था जिसमें एक फर्म नॉन रेस्पॉन्सिव रहे बाकी पांच फर्मों में सर्वाधिक अत्यधिक बोली लगाने वाले फर्म जय मां विंध्यवासिनी स्क्रैप बोली पाने में सफल रही।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं