समाचारस्वच्छता महोत्सव में बढ़िया काम करने वाले प्रधानों को किया गया सम्मानित-MIRZAPUR

स्वच्छता महोत्सव में बढ़िया काम करने वाले प्रधानों को किया गया सम्मानित-MIRZAPUR

9453821310-
मीरजापुर, 21 जुलाई, 2019- जिलाधिकारी अनुराग पटेल की अध्यक्षता में स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के अन्तर्गत जनपद में स्वच्छता एक दिवसीय स्वच्छता महोत्सव का आयोजन जंगीरोड स्थित एक होटल के सभागार में किया गया। इस महौत्सव में जनपद को खुले में शौच से मुक्त करने के उपरान्त ओ0डी0एफ0 के स्थायित्व तथा ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबन्धन पर एक वृहद एक दिवसीय जन जागरूकता के बारे में जानकारी दी गयी। जिसमें जनपद के समस्त स्वच्दाग्रहीख् प्रधान, सचिव, कम्प्यूटर आपरेटर, खण्ड प्रेरक, सहायक विकास अधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी व जनपद में स्वच्छता की दिशा में अच्छे कार्य करने वालो को सम्मानित किया गया।बढ़िया काम करने वाले प्रधानों को किया गया सम्मानित जिसमे रायपुर पोख्ता के ग्रामप्रधान हरीश चंद शुक्ल के अलावां आठ प्रधानों को किया गया सम्मानित |

स्वच्छता महोत्सव की मुख्य अतिथि के रूप में सांसद अनुप्रिया पटेल व विशिष्ट अतिथि के रूप में सांसद राम सकल व विधायक छानवे राहुल प्रकाश कोल जिलाधिकारी अनुराग पटेल व मुख्य विकास अधिकारी के द्वारा दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रमा का शुभारम्भ किया गया। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये पूर्व केन्द्रीय मंत्री व सांसद अपुप्रिया पटेल ने कहा कि विकास एवं समृद्धि का साीधा सम्बन्ध स्वास्थ्य से होता है और स्वास्थ्य का सीधा सम्बन्ध स्वच्छता से होता है। उन्होंने कहा कि अशुद्ध प्रयजल, खुले में पडा मानव मल, गन्दा वातावरण के कारण मनुष्य अनेक बीमारियों का शिकार हो रहा है जिससे ज्यादा महिलायें एवं बच्चे प्रीाावित हो रहे हैं जिसके कारण से प्रतिवर्ष लाखों व्यक्त्यिों की अकाल मृत्यु हो जाती है तथा परिवार आर्थिक रूप से कमजोर होता है एवं महिलाओं एवं किशारियों को खुले में ाौच के कारण आये दिन अनेक अमानवीय कृत्यों से रूबरू होना पडता है जो हमारे सभ्य समाज के लिये चुनौती है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा स्वच्छता की तरफ ध्यान आकृष्ट किया गया और उसे जन आन्दोलन के रूप में चलाकर पिछले पाॅंच वर्षो में आज ग्रामीण क्षेत्रों में पाॅ।च प्रतिशत से सफाई बढ कर 90 प्रतिशत तक पहुॅचाया गया है आगे और 100 प्रतिशत तक पूरा करने के लिये प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि स्वच्छता को जन आन्दोलन देने का उद्देश्य है कि सफाई, स्वच्छता एवं ख्ुाले से शौच से शत प्रतिशत दिलाकर ग्रामीणों के जीवन में सुधार लाना, जागरूबता सृजन और स्वास्थ्य शिक्षा के माध्यम से स्थायी सुविधाओं को बढाव देना है। उन्होंने कहा कि सम्पूर्ण स्वच्छता के लिये ग्रामीण क्षेत्रों में ठोस और तरल अपशिष्ट प्रबन्ध के लिये समुदाय पद्धति प्र्यावरणीय स्वच्छता को विकसित करने की आवश्यकता है ताकि हम अपने गांव, जनपद, प्रदेश और पूरे देश को स्वच्छत भारत की श्रेणी लाकर खडा सक सके। उन्होंने कहा कि मीरजापुर का सीखड ब्लाक प्रदेश में सबसे पहला ओ0डी0एफ0 धोषित होने वाला विकास खण्ड रहा है और पूरा जनपद खुले में शोैच से मुक्त घोषित किया जा चुका है परन्तु जब तक सभी लोग शौचालय का प्रयोग नहीं करगे तब तक जनपद पूर्णतयाः ओद्धडी0एफ0 नहीं माना जा सकता और इसके लिये वेस लाइन सर्वे में जो लोग शौचालय बनवाने से छूट गये उन्होंने भी शौचालय प्रदान किया गया है, जिसका निर्माण प्रगति पर हैं। जनपद को खुले में शौच से मुक्त कराने के लिये जिलाधिकारी श्री अनुराग पटेल, मुख्य विकास अधिकारी पिंयका निरंजन सहित सभी अधिकारियों, ग्राम प्रधानों स्वच्छता ग्रहिया का महत्वपूर्ण भूमिका रही है जिसके लिये सभी बधाई के पात्र हैं।

इस अवसर पर सांसद राम सकल ने अपने सम्बोधन में कहा कि प्रधानमं़ी नरेन्द्र मोदी स्वच्छता के प्रति हमेशा चितित रहे हैं और वे सरकार में आते ही देश को स्वच्छ बनाने के लिये बीडा उठाया और वह आज जन आन्दोलन के रूप में सामने आया उसी का नतीजा है कि आज जनपद मीरजापुर के साथ प्रदेश और पूरा भारत स्वच्छ भारत बनाने की दिशा में कार्य कर रहा है। उन्होंने कहा कि अभी भी कुछ लोग शौचालय का उपयोग नहीं कर रहे हैं ऐसे लोगों को भी जागरूक करने की जरूरत है जिससे पूरा जनपद ओ0डी0एफ0 घोषित हो सके और भारत के नक्शे पर जनपद मीरजापुर उभर कर सामने आये। उन्होंने सभी अधिकारियों व स्वच्छता कार्य में लगे सभी लोगों को बधाई देते हुये कहा कि जो लोग अभी बाहर शौच करने जा रहे हैं उन्हें भी जागरूक करें । इस क्रम में विधायक राहुल प्रकाश कोल ने भी स्वचछा के महत्व के बारे में विस्तृत जानकारी दी।

जिलाधिकारी अनुराग पटेल ने स्वच्छता महोत्सव में बताया कि भारत सरकार की बेसलाइन द्वारा निर्धारित ल़क्ष्ष् ए-03 के अनुसार जनपद मीरजापुर 30 सितम्बर 2018 को पूर्वाचल का पहला खुले में शौच से मुक्त जनपद होने का गौरव प्राप्त किया। भारत सरकार द्वारा चयिनत स्वतंत्र एजेंसी के माध्यम से एक अगस्त 2018 से 30 अगस्त 2018 तक स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण 2018 के अन्तर्गत देश के 816 जनपदों के लगभग डेढ करोड परिवारों से स्वच्छता की मूलभूत सुविधाओं के बारे में जानकारी प्रापत किया गया, जिसमें भारत सरकार द्वारा स्वच्छता के क्षेत्र में उत्कृष्ठ कार्य करने वाले देश के 100 जनपदों का चयन किया गया जिसमें जनपद मीरजापुर सौवें स्ािान पर था तथा प्रदेश के मात्र आठ जनपदों का चयन किया गया। इसमें सभी अधिकारियों, ग्राम प्रधानों सहित सभी स्वचछग्रहियों का सहभागिता रहा हहै। उन्होंने कहा िक शेष छूटे परिवारों को शौचालय दिया गया है जिसमें लगभग 85 प्रतिशत पूर्ण कर लिया गया है। इस अवसर पर नौा ग्राम प्रधानों, आठ लाभार्थियों, तीन 0डी0 पंचायत, पाॅंच खंड प्रेरक तथा चार सचिव को अच्छे कार्य के लिये सम्मानित किया गया। इस अवसर पर लोक गायिका उषा गुप्ता के द्वारा स्वच्छता पर आधारित गीत सुनाकर लोगों जागरूक किया गया तथा लोगों की मांग पर कई कजरी गीत सुनाया गया। मुख्य विकास अधिकारी पिंयका निंरलन ने सभी अतिथियों का आभार प्रकट किया तथा कोआडिनेटर विनोद श्रीवास्तव ने सफल संचालन किया । इस अवसर पर जिला पंचायत राज अधिकारी अरविन्द कुमार, परियोजना निदेशक रिषिमुनी उपाध्याय के अलावा सभी सम्बंधित अधिकारी व ग्राम प्रधान उपस्थित रहे।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं