समाचारमुख्यमंत्री की नवीन विकास प्राथमिकता वाली योजनाओं में किसी भी प्रकार की...

मुख्यमंत्री की नवीन विकास प्राथमिकता वाली योजनाओं में किसी भी प्रकार की शिथिलता क्षम्य नहीं होगी-नोडल अधिकारी

मीरजापुर, 28 अगस्त, 2019, उत्तर प्रदेश शासन के विशेष सचिव सिंचाई एवं जल संसाधन उत्तर प्रदेश तथा जिले के नोडल अधिकारी सुरेन्द्र विक्रम की अध्यक्षता में जिला पंचायत सभागार में मुख्यमंत्री के नवीन विकास प्राथमिकता वाली योजनाओं की समीक्षा बैठक की गई। बैठक को संबोधित करते हुए नोडल अधिकारी सुरेन्द्र विक्रम ने कहा कि मुख्यमंत्री की नवीन विकास प्राथमिकता वाली योजनाओं में किसी भी प्रकार की शिथिलता क्षम्य नहीं होगी। उन्होंने पूर्ति विभाग को निर्देशित करते हुए कहा कि सिविल सप्लाई में पांच साल के दौरान जो भी एफआईआर हुए हैं उनमें पुलिस विभाग से समनव्य स्थापित कर उनका निस्तारण कराना सुनिश्चित किया जाये। सभी विभागों को निर्देशित करते हुए कहा कि गमन के एफआईआर की विवेचना करने के साथ उनके निस्तारण पर जोर दिया। उन्होंने सरकारी काम में बाधा डालने संबंधित मामलों में जो भी एफआईआर दर्ज कराये गए है उन्हें विशेष तौर पर समन्वय स्थापित कर निस्तारण पर जोर दिया है। समीक्षा बैठक के दौरान गौ आश्रय स्थलों की समीक्षा किए जाने पर पशु विभाग द्वारा बताया गया कि जिले में कुल दस गौर आश्रय स्थल है जिनमें 1064 पशु हैं। जिनके देखभाल और चारा पानी इत्यादि की जानकारी प्राप्त करते हुए नोडल अधिकारी ने आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए चेताया कि गौ आश्रय स्थलों पर साफ-सफाई के साथ ही साथ चारा पानी और छांव की समुचित व्यवस्था होनी चाहिए इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरती जानी चाहिए अन्यथा कार्रवाई से गुरेज नहीं किया जायेगा। कस्तुरबा गांधी छात्रावास/विद्यालयों की सुरक्षा की दृष्टि से उन्होंने पुलिस विभाग को निर्देशित किया कि विद्यालयों के इर्द गिर्द सुरक्षा होने के साथ ही गश्त भी किया जायं। उन्होंने लड़कियों के छात्रावास की बराबर जांच करने की बात कही ताकि कहीं छात्रावास में लडके न घुस पायेें। उन्होंने तहसील व थाना समाधान दिवस की विवेचना करते हुए भू-माफियाओं पर कार्रवाई कर उन पर शिकंचा कसने के निर्देशित दिए कहा थाना समाधान एवं तहसील दिवस पर भू-माफियाओं से संबंधित आने वाले प्रार्थना पत्रों पर गंभीरतापूर्वक कार्रवाई सुनिश्चित की जायैं स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान नोडल अधिकारी को बताया गया कि टीकारण, संचारी रोग नियंत्रण, टीवी नियंत्रण आदि कार्यक्रमों को अभियान के तहत चलाते हुए सफल बनाया गया है।उन्होंने कहा कि सरकारी कार्यालयों में साफ सफाई के साथ ही फाईलों के रख रखाव पर भी विशेष ध्यान दिया जाये ताकि वह नष्ट न होने पायें।सिचाई विभाग की समीक्षा के दौरान निर्देशित किया कि सिंचाई विभाग की जो भी जमीन अतिक्रमण की चपेट में है उसे मुक्त कराया जाये, छात्रवृत्ति, पेंशन, किसान पेंशन, वृद्या पेंशन, दिव्यांग पेंशन की समीक्षा करते हुए पात्रों को कैंप लगाकर लाभान्वित करने का निर्देश दिया मुख्यमंत्री आवास योजना की समीक्षा की जिस पर बताया कि 6 में से 3 को तीसरी किस्त देना है।जल निगम की समीक्षा के दौरान उन्होंने निर्देशित किया कि जल निगम से संबंधित कार्यो को प्राथमिकता के आधार पर पूर्णकरने के साथ ही जल निगमद्वारा बिछ़ाई जा रही पाईपलाइन को जल्द से जल्द पूरा किया जायेगा, ताकि लोगों को शुद्वपेयजल मिल सके, विद्युत विभाग की समीक्षा के दौरान जर्जर बिजली के तार और टांसर्फामर को बदले जाने का निर्देश देते हुए कहा कि इस कार्य में कोताही न बरती जाये, सौभाग्य योजना के तहत दिए जाने वाले कनेक्शन की जानकारी प्राप्त करने हुए उन्होंने प्राथमिकता के आधार पर पात्रों को कनेक्शन मुहैया कराने का निर्देश दिया, शिक्षा विभाग की समीक्षा के दौरान नोडल अधिकारी ने पाठ्य पुस्तकों, डेस, जूता मोजा, बैग वितरण की जानकारी प्राप्त की, छानबे विकास विकास खंड़ के प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालयों में खादी के डेस वितरण के बारे में जानकारी प्राप्त की तो बताया गया कि स्टीमेट बनाकर बनने पंजीकृत इकाई को दिया जा चुका है तैयार होकर आने पर विरतण कराया जायेगा, मध्यान्न भोजन के बारे में भी जानकारी प्राप्त किया जिस पर उन्हें बताया गया कि मीनू के हिसाब से परोसा जा रहा हैतथा बताया गया कि विद्यालयों की दिवारों पर मीनू और उसकी मात्रा अंकित कराया गया है उसी के अनरूप भोजन परोसा जा रहा है इसपर नोडल अधिकारी ने बताया कि मीनू के नीचे संबंधित अधिकारी का नंबर अंकित किया जाये ताकि किसी प्रकार की शिकायत होने पर उस पर सम्पर्क किया जा सके,इस दौरान नोडल अधिकारी ने शौचालय, आवास योजना की समीक्षा करते हुए पात्रों को जिनके किस्त नहीं पहुंचे है निर्गत किए जाने के निर्देश दिए गए, खाद्य सुरक्षा विभाग की समीक्षा के दौरान बताया कि गया 95 प्रतिशत से उपर वितरण किया जा चुका जिस पर उन्होंने खाद्यसामाग्रियों के रखरखाव की भी जानकारी प्राप्त कीताकि वह खराब तो नहीं हो रहे हैं,कृषि विभाग की समीक्षा के दौरान उन्होंने निर्देशित किया कि सभी किसानों का कैंप लगाकर आधार कार्ड बनवाना सुनिश्चित किया जाये |
इस मौके पर जिलाधिकारी अनुराग पटेल, मुख्यविकास अधिकारी प्रियंका निरंजन, पुलिस अधीक्षक अवधेश पांडेय, अपर जिलाधिकारी, उपजिलाधिकारी सदर, मुख्यचिकित्साधिकारी,जिलापंचायत राज अधिकारी एवं सभी जनपदीय अधिकारी उपस्थित रहे है |

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं