समाचारदो घंटे तक ली गयी बैरकों में तलाशी-कुछ न मिलने जेल अधिकारियों...

दो घंटे तक ली गयी बैरकों में तलाशी-कुछ न मिलने जेल अधिकारियों ने ली राहत की सांस-MIRZAPUR

जनपद न्यायाधीश, जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने किया जनपद कारागार का औचक निरीक्षण

मीरजापरु, 27 सितम्बर, 2019- जनपद न्यायाधीश सुरेन्द्र कुमार सिंह, जिलाधिकारी अनुराग पटेल व पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह ने लगभग 12 बजकर 30 मिनट पर जिला कारागार पहुॅच कर विभिन्न बैरकों में औचक निरीक्षण किया। इस दौरान जनपद न्यायाधीश व जिलाधिकारी द्वारा कैदी नीरज विश्वकर्मा निवासी झंासी एवं पुरषोत्तम बिन्द निवासी बेलवरिया जनपद देहात कोतवाली जनपद मीरजापुर, अशोक कुमार सिंह निवासी ग्राम सरिया थाना अहरौरा, जनपद मीरजापुर, आशाीष पाण्डेय, निवासी बेलवन मीरजापुर, एवं महिला बैरक में अनुपमा देवी निवासी गिरधर का चैराहा, मीरजापुर सहित कई कैदियों से वार्ता की तािा उनके केश लडने के लिये एडवोकेट है या नहीं के बार में जानकाी ली। निरीक्षण के दौरा नीरज बिन्द ने वकील की मांग की जिस पर जनपद न्यायाधीश के द्वारा नियमानुसार वकील मुहैया कराने का निर्देश दिया। इसी प्रकार पुरषोत्तम बिन्द ने बताया कि आराजीवन कारावास काट रहे 18 वर्ष हो पूर्ण हो गया शासन से उनके रिहाई के लिये आदेश प्रापत हुआ है, जिस पर जिलाधिकारी ने सक्षम अधिकारी से रिपोर्ट प्रापत कर रिहाई की कार्यवाही करने का निर्देश दिया। कैदी अशोक कुमार सिंह निवासर सरिया मीरजापुर ने बताया कि एनके नाम में दर्द होने से पूरे सिर में दर्द रहता है जिससे वे रात्रिभर सो नहीं पाते जिस पर जनपद न्यायाधीश व जिलाािकारी द्वारा मौके पर उपस्थित अपर मुख्य चिकित्साधिकाराी एवं चिकित्सक को निर्देशित किया किया इलाज यदि यहां पर सम्भव न हो तो जिला अस्पताल लेजाकर तत्काल जाॅंच कराकर इलाज किया जाय। बेलवन निवासी कैदी आशीष पाण्डेय एवं गिरधर चैराहा निवासी अनुपमा देवी ने भी वकील की मांग की जिस पर नियामानुार कार्यवाही करने का निर्देश दिया गया। महिला कैदियों के बैरक निरीक्षण के दौरान महिला कैदियों ने बताया कि बच्चों को दूध, फल आदि नियमानुसार दिया जा रहा है परन्तु मौसम के बदलाव से ठंड हो रही है बच्चों व उनके लिये कम्बल की आवश्यकता है जिस पर जिलाधिकारी द्वारा कारागार अधीक्षक को कम्बल मुहैया कराने का निर्देश दिया गया। इस दौरान बैरक नं0 4, 5, 6, सहित अन्य बैरकों, चिकित्सालय, व महिला बैरकों के कैदियों के बैग, बिस्तर आदि को हटवाकर निरीक्षण किया गया। हांला कि किसी के पास कुछ न मिलने से जेल के अधिकारियों द्वारा राहत दिखाई दिया। निरीक्षण के दौरान सी0जे0एम0 इन्द्रजीत सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक प्रकाश स्वरूप पाण्डेय, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी, जिला कारागार अधीक्षक, व जेलर सुरेश मिश्रा के अलावा भारी संख्या पुलिस व महिला पुलिस उपस्थित रही।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं