समाचारदुर्गा पूजा की प्रतिमा गंगा में नहीं होगा विसर्जन-जिलाधिकारी

दुर्गा पूजा की प्रतिमा गंगा में नहीं होगा विसर्जन-जिलाधिकारी

मीरजापुर, 05 अक्टूबर, 2019- जिलाधिकारी अनुराग पटेल की अध्यक्षता में कलेक्ट््रेट सभागार में इुर्गा पूजा के प्रतिमा विसर्जन वं दशहरा त्योहर के दौरान कानून व्यवस्था बनाये रखने के उद्देश्य से प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों की बैठक आहूत की गयी। इस दौरान जिलाधिकारी ने सभी उप जिलाधिकारी व पुलिस अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि यह सुनिश्चित करेगें कि कहीं भी गंगा नदी में मूर्ति विसर्जन नहीं होगा। इसके अतिरिक्त जहां पर भी मूर्ति विसर्जन के लिये स्थल चिन्हित किया गया है वहां पर जनरेटर, बिजली, तथा पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चत किया जाये जाये। उन्होंने कहा कि जहां पर अधिक विसर्जन हो रहा है वहां पर जनरेट की व्यवस्था अवश्य किया जाये, ताकि रात्रि में मूर्ति विसर्जन के किसी प्रकार की अव्यवस्था उत्पन्न न होने पाये। जिलाधिकारी ने कहा कि शारदीय नवरात्र के दौरान साम्प्रदायिक सौहार्द बनाये रखने के लिये प्रत्येक मूर्ति स्थल पर पर्याप्त मात्रा में पुलिस व्यवस्था की जाये तथा पण्डाल स्थापित करने वाले कमेटी के पदाधिकारियों को आगाह कर दिया जाये कि शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने में अपना सहयोग प्रदान करें। जिलाधिकारी ने कहा कि नगरीय क्षेत्रों में समस्त नगर पालिकाओं के ई0ओ0 व ग्रामीण क्षेत्रों में जिला पंचायत राज अधिकारी व अपर मुख्य अधिकारी पूर्व की भांति जहां जिसके द्वारा व्यवस्था की जाती रही है उसके द्वारा प्रकाश, सफाई, बिजली व पेयजल व्यवस्था सुनिश्चित करायी जायेगी। विसर्जन स्थल पर गहरें पानी में कोई न जाने पाये इसके लिये बैरीकेटिंग की भी व्यवस्था की जाये तथा बिजली विभाग के अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि जिस मार्ग से मूर्तियां विसर्जन के लिये जाये उस रास्ते पर पडने वाले विद्युत तारों को देख लें यदि कहीं कोई तार ढीला हो तो उसे तत्काल ठीक करायें।स्वास्थ्य विभाग के द्वारा प्रमुख स्थलों पर एम्बूलेन्स, व चिकित्सकों की तैनाती की जाये। विसर्जन जुलूस के दौरान याताया व्यवस्था बनाये रखा जाये ताकि आवागमन भी प्रभावित न होने पाये। प्रयोग किय जा रहे लाउडस्पीकर व अन्य वाद्य यन्त्रों के प्रयोग को मानक के अनुसार ही बजाया जाये सभी मूर्ति स्थापित करने वाले कमेटियों के पदाधिकारियों को पूर्व में ही अवगत करा दिया जाये। जिलाधिकारी ने कहा कि जिस स्थान पर रामलीला हो रहा है वहां पर भी पुलिस अधिकारियों के द्वारा पर्याप्त व्यवस्था की जाये। प्रतिमा विसर्जन क्रम वद्ध हो ताकि जो पहले आये उसका पहले विसर्जन हो इसके लिये किसी प्रकार का विवाद न होने पाये तथा एक प्रतिमा विसर्जन होने के बाद ही दूसरा विसर्जन के लिये आगे जायेगा। उन्होंने कहा कि पूर्व में जो परम्परा होती आ रही है उसके अलावा किसी प्रकार का नया कार्य नहीं किया जायेगा। जिलाधिकारी ने कहा कि जिस अधिकारही जो जिम्मेदारी दी गयी है वे अपने कार्यो को पूरी ईमानदारी व निष्ठा के साथ निर्वहन करें ताकि आस्था और विश्वास कायम रहे।

जिलाधिकारी ने कहा कि कानून व्यवस्था व साम्मप्रदायिक सौहार्द को बनाये रखने के लिये नगर क्षेत्र में नगर मजिस्ट््रेट तथा उप खण्ड क्षेत्र के लिये सम्बंधित उप जिला मजिस्ट््रेट प्रभारी होगें तथा इसके लिये पूर्ण उततरदायी होगें। उन्होंने कहा कि नगर मजिस्ट््रेट व सभी उप जिला मजिस्ट््रेट अपने-अपने क्षेत्रों में स्थित मन्दिरों व अन्य प्रमुख स्थानों, बाजारों एवं मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों का अपने क्षेत्राधिकारी के साथ व्यापक भ्रमण कर लें तथा यदि कहीं संवेदनशील स्थल प्रतीत होता है तो कानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिये आवश्यक निदे्रश जारी करें तथा एतिहाती काय्र्रवाही सुनिश्चित करें। सभी मजिस्ट््रेट आने-अपने क्षेत्रों में सफाई एवं जल, प्रकाश आदि व्यवस्था को ेदखेंगे यदि कहीं कमी हो तो सम्बंधित अधिकारी से वार्ता कर सुनिश्चित करायेगें। उन्होंने कहा कि सभी आदेशों का कडाई से पालन किया जाये किसी भी स्तर पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं