शासन की प्राथमिकता पंचायत भवनों को शीघ्र पूर्ण कराने का दिया निर्देष-जिलाधिकारी

VIRENDRA GUPTA 9453821310-
नवागत जिलाधिकारी ने अधिकारियों से विकास योजनाओं के बारे में ली जानकारी

कार्यो में तेजी लाकर विकास में गति प्रदान का दिया निर्देष

मीरजापुर, 03 जनवरी, 2021 – नवागत जिलाधिकारी प्रवीन कुमार लक्षकार ने प्रातः लगभग 9.30 बजे बाणसागर गेस्ट हाउस में पहुॅच अधिकारियों से मुलाकात कर विकास कार्येक्रमों एवं सम्बंधित अधिकारी के विभाग के योजनाओं के प्रगति के बारे में जानकारी प्राप्त। इस दौरान जिलाधिकारी ने मुख्य विकास अधिकारी अविानष सिंह से कहा कि शासन की प्राथमिकताओं में पंचायत भवनों को पूर्ण कराना है अतः वे स्यंव रूचि लेकर निर्माणाधीन पंचायत भवनों को शीघ्र पूर्ण कराना सुनिष्चि करायें। पेयजल परियोजनाओं के बारे में जानकारी करने पर अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व ने बताया कि पेयजल परियोजनाओं में 70 ए्रसे स्थान हैं जिन पर अभीभूमि की उपलब्धता नहीं हो सकी है, जिस पर कहा गया कि जहां पर भूमि उपलब्ध हो वहां तत्काल उपलब्ध कराया जाये और यदि कहीं विवादित हो उसका निस्तारण कराकर कार्य प्रारम्भ करायें। उन्होंने शासन द्वारा चलाये जा रहे वरासत अभियान एवं खतौनियों के मिलासन के सम्ब्न्ध में कहा कि ग्रामवार सूची बनाकर खुली बैठक में वरासत व खर्तानियों को पढा जायें। आईजीआरएस के बारे में जानकारी करने पर कहा कि डिफाल्टर प्रकरण किसी विभाग में न हो अन्यथा सम्बंधित अधिकारी पर कडी कार्यवाही की जायेगी। इसी प्रकार मुख्यमंत्री/उपमुख्यमंत्री या अन्य मंत्रीगण व विभिन्न माध्यमों से पोर्टल पर प्राप्त जन शिकायतों को प्रथमिकता के आधर पर गुणवत्तापूर्ण ढंग से निस्तारण कराया जाये ताकि शिकायतकर्ता संतुस्ट हो सके। आयुश्मान भारत के तहत बनाये जा रहे गोल्डन कार्ड की प्रगति कम होने पर गांवों में कैम्प लगाकर तथा विभिन्न स्थानों पर खोले गये जन सूचना सेन्टरों से बनवाये जाये। उनहोंने कहा कि यह सुनिश्चित की जाये जनपद के शत प्रतिषत गांवों में गोल्डन कार्ड अवश्य बन जाये। सरकारी राषन की रिक्त दुकानों को प्राथमिकता के आधार पर गांवों में खुली बैठक कर नियिमानुार आवंटन किया जाये। जननी सुरक्षा योजना में लाभार्थियों के भुगतान को ससमय दिया जाये। हेल्थ एवं वेलनेस सेन्टरों के निर्माण में मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि कुल 50 हेल्थ एवं वेलनेस सेंटरों में 16 पूर्ण हो गये हैं 34 पर कार्य प्रगति पर है। 50 लाख से अधिक निर्माण कार्यो में प्रगति के बारे में जानकारी करते हुये सोलर वाटर पम्प, फसल बीमा, प्रधानमंत्री किसाना सम्मान निधि, चिकित्सकों एवं दवाइयों की उपलब्धता, स्कूलों का शत प्रतिषत निरीक्षण, आपरेशन कायाकल्प, अमृत योजना, ओ0डी0एफ0, एनआरएलएम, मनरेगा, प्रधानमंत्री ग्राम सडक योजना, आधार कार्ड से खाद्यान का उठान, मत्स्य पालन उद्यान, पेंषन, छात्रवृत्ति श्रमान योजना, आदि की समीक्षा की जिस पर मुख्य विकास अधिकारी व अपर जिलाधिकारी द्वारा प्रगति के बारे में जानकारी दी गयी। जिलाधिकारी द्वारा कर एवं करेत्तर के प्रगति के बारे में भी जानकारी प्राप्त की तथा वूसली के लक्ष्य बढाकर लक्ष्य पूरा कराने का निर्देष अपर जिलाधिकारी को दिया। उन्होंने यह भी कहा कि 05 साल से अधिक मुकदमों का निस्तारण प्राथमिकता पर किया जाये ताकि पुरानें मुकमदें किसी कोर्ट में लम्बित न रहें। सांसद एवं विधायक निधि के पुरान कार्यों के बारे में भी जानकारी प्राप्त की। इस दौरान कोराना के रोकथाम व बचाव के लिये किये जा रहे उपायों के बारे में भी जानकारी प्राप्त की तथा बाहर से आने वाले एवं कालीन तथा सीमेन्ट फैक्ट्रियों में आने वाले नये मजदूरों की जानकारी कर जाॅंच तथा प्रमुख मंदिरों में जाॅच अवष्य करने का निर्देष मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दिया। इस दौरान एम्बुलेन्स, धान की खराद आदि के बारे में जानकारी प्राप्त की। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी अविनाष सिंह, अपर जिलाधिकारी यू0पी0 सिंह, मुख्य राजस्व अधिकारी हरिषंकर यादव, मुख्य चिकित्साधिकारी, बेसिक शिक्षा अधिकारी गौतम प्रसाद, जिला कार्यक्रम अधिकारी पी0के0 सिंह, उप जिलाधिकारी चुनार जितेन्द्र कुमार, परिरियोजना निदेषक रिषि मुनी उपाध्याय के अलावा अन्य सम्बंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.