बिना गुरु के इस भवसागर को पार नहीं कर सकते-जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी नारायणानंद तीर्थ महाराज


वीरेंद्र गुप्ता मिर्जापुर 94 53 82 1310,

जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी नारायणानंद तीर्थ महाराज के सानिध्य में चल रही विकासखंड सिटी के रायपुर पोख्ता गांव में शिवमहा पुराण ज्ञान यज्ञ के तृतीय दिवस में भक्त समुदाय को संबोधित करते हुए स्वामी ने बताया कि शिव पूजन कर मनुष्य समस्त कामनाओं की सिद्धि प्राप्त कर सकता है l यह शिव महापुराण ज्ञान यज्ञ सभी क्षेत्र वासियों के लिए कल्याणकारी है l शिव की कथा श्रवण करने से संपूर्ण मनोरथ की सिद्धि होती है l जिसे मोक्ष की प्राप्ति करना है, उसे गुरु पूजन एवं शिव पूजन नितांत आवश्यक है l महाराज ने बताया कि जिस प्रकार से अग्नि में सभी ईंधन जलकर राख हो जाता है, उसी प्रकार शिव महापुराण श्रवण मात्र से सभी पापों के दुखों का नाश हो जाता है l जो सदा ही शिव पूजन करता है, कथा श्रवण करता है,वह निरंतर भगवान शिव के प्रसन्न होने से समस्त उत्तम कामनाओं को प्राप्त कर लेता है l हमारे जीवन के मूल उद्देश्यों को समझाने के लिए सद्गुरु की ही आवश्यकता पड़ती है, बिना गुरु के इस भवसागर को पार नहीं कर सकते, गुरु ज्ञान के बगैर जन्म एवं मरण के बंधन से मुक्त नहीं हो सकते और जन्म और मृत्यु से अलग मोक्ष की प्राप्ति के बिना दुख ही दुख भोगना पड़ता है l
‘यतपुव्यम सर्व दानेषु सर्व यज्ञेषू वा मुने’
इस कलिकाल में जो पुण्य सभी दान से, सभी यज्ञ से प्राप्त होता है, वही फल शिव महापुराण की परम मंगलमय कथा श्रवण का भी फल है l यह शिव महापुराण की पावन कथा जिस घर में, क्षेत्र में होती है, वो पूरा क्षेत्र तीर्थमय एवं आनंदमय हो जाता है l इस परम पवित्र पावन अवसर में अधिक से अधिक लोग लाभ लेकर इस लोक एवं परलोक में सुखानुभूति एवं परमानंद की प्राप्ति कर सकते हैं l कथा के पूर्व काशी धर्मपीठ परंपरा के अनुसार मुख्य यजमान हरीश्चचंद्र शुक्ला, महेंद्र दुबे, नागेंद्र दुबे,अशोक, वंसी आदि सहित पादुका पूजन वैदिक परपंरा के अनुसार संपन्न हुआ l

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.