पत्रकार को जेल भेजे जाने का मामला गरमाया मिर्जापुर


वीरेंद्र गुप्ता मिर्जापुर 94 53 82 1310,

मिर्जापुर में स्वास्थ्य से जुड़ी सेवाओं में मरीजों के साथ अत्याचार, जुल्म, धोखेबाजी , गलतफहमी ,घबराहट व असहज स्थिति उत्पन्न करके मरीज से व उनके परिजनों से अवैध रूप से धन वसूली किए जाने के मामले का पर्दाफाश जब पत्रकार के द्वारा किया गया तो इन अवैध धंधों में लिप्त लोगों को पत्रकार कांटा की तरह चुभने लगा। रास्ते से हटाने के उद्देश्य से पत्रकार को फर्जी तरीके से फसाकर सिटी कोतवाली पुलिस की मदद से जेल भेजे जाने की एक बार योजना विफल हुई लेकिन दोबारा इस अवैध और अमानवीय धंधे में लिप्त लोगों की दूसरी बार का प्रयास में अवैध कारोबार में संलिप्त लोग अपने नापाक इरादों में थोड़ी देर के लिए सफल हो गए, जिसके दुष्परिणाम स्वरूप शनिवार की रात पत्रकार को जेल भेज दिया गया।पत्रकार दैनिक अखबार में समाचार लिखने का कार्य करते हैं दिनांक 1 फरवरी 2021 को आइडियल जर्नलिस्ट एसोसिएशन की आवश्यक बैठक में पीड़ित पत्रकार ने उपरोक्त बातें कहीं बैठक में महासचिव वीरेंद्र गुप्ता जिला उपसचिव दीपचंद जिला सचिव रणजीत मौर्य जिला अध्यक्ष संदीप श्रीवास्तव के लावा पीड़ित पत्रकार आइडियल जर्नलिस्ट एसोसिएशन मिर्जापुर के जिला उपाध्यक्ष ने आगे की कार्य योजना पर विचार विमर्श किया । पीड़ित पत्रकार ने बताया कि दोबारा षड्यंत्र कार्यों ने अपने षड्यंत्र में सफलता प्राप्त की और उनको जेल भेजने में सफल रहे तो इस घटना की निंदा करते हुए संगठन के महासचिव वीरेंद्र गुप्ता ने बैठक में प्रस्ताव पारित किया की पत्रकार को जानबूझकर निशाना बनाने वाले घटना में लिप्त लोग चाहे वह किसी भी स्तर के हो किसी भी पद पर हैं उनको छोड़ा नहीं जाएगा, उनको न्यायालय के माध्यम से उचित सजा दिलाई जाएगी। सचिव दीपचंद ने कहा कि पत्रकार को फसाने के नापाक इरादों में संलिप्त लोगों का पर्दाफाश करके संगठन अपने उद्देश्य की पूर्ति करेगा। जिला अध्यक्ष प्रदीप श्रीवास्तव ने पूरे घटनाक्रम की घोर निंदा की है और कहा कि किसी पत्रकार को जेल भेजे जाने का मामला अत्यंत संगीन है जब पत्रकार ने भ्रष्टाचार के खिलाफ लिखना शुरू किया तो भ्रष्टाचारियों ने षड्यंत्र के तहत पत्रकार को जेल भेजने का काम किया लेकिन आज पत्रकार की एकता और उसकी ताकत के आगे माफियाओं को सुधारना होगा चाहे जिला अस्पताल में और चाहे जनपद के किसी भी अस्पताल में अवैध रूप से मरीजों के साथ वसूली का मामला यदि प्रकाश में आता है तो सारे मामले को लिखा जाएगा पत्रकार के कलम को रोकने की हिमाकत करने वालों को सलाखों के पीछे भेज कर ही दम लिया जाएगा। वरिष्ठ सचिव रंजीत मौर्या ने भी सारे पत्रकारों को एकजुट होने का आवाहन करते हुए कहा कि यह मामला सिर्फ एक का नहीं यह मामला सभी
पत्रकारों का है और समय आ गया है कि पत्रकार अपनी एकजुटता का परिचय दें और अवैध कारोबार में संलिप्त और पत्रकार को फंसाने में षड्यंत्र में शामिल लोगों का पर्दाफाश किया जाए और उनको कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाए । आइडियल जर्नलिस्ट एसोसिएशन मिर्जापुर के बैनर तले आज कमिश्नर से मुलाकात कर सारी घटना को अवगत कराया जाएगा और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की जाएगी।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.