जिलाधिकारी ने नगर पालिका परिषद मीरजापुर के कार्यालय का किया निरीक्षण

VIRENDRA GUPTA 9453821310-
मीरजापुर, 12 फरवरी 2021 जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने आज नगर पालिका परिषद लाल डिग्गी व घंटाघर में पहुॅचकर प्रत्येक कर्मचारियो के पटलवार कार्यो का निरीक्षण किया। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी यू0पी0 सिंह, नगर मजिस्ट्रेट विनय कुमार ई0ओ0 ओम प्रकाश के अलावा अन्य अधिकारी उपस्थित रहें। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा हाउस टैक्स एवं वाटर टैक्स के पत्रावलियो का माहवार निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान कर निरीक्षको के द्वारा अपेक्षित वसूली न करने तथा उनके कार्यो के बारे में रिव्यू न करने, वाटर टैक्स, हाउस टैक्स, में कितने लोगो का बकाया है तथा कितने लोगो से कितनी धनराशि वसूली गयी है, का रिकार्ड तैयार न करने व जानकारी न दे पाने तथा नगर पालिका के कुल सम्पत्तियो तथा कितनी सम्पत्ति किराये पर दी गयी है तथा उसके सापेक्ष कितने लोगो का किराया नही जमा किया जा रहा है। जानकारी न देने पाने पर कर निर्धारण अधिकारी अरविन्द कुमार पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुये कार्यवाही के निर्देश दिये है। जिलाधिकारी ने कहा कि सबसे बड़े 20 डिफाल्टर बकायादारो को नोटिस जारी न करने पर भी नाराजगी व्यक्त की गयी। जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि नगर पालिका के सम्पत्तियो का नियमित किराया न देने वालो को नोटिस जारी करते हुये आवंटन निरस्त करने की कार्यवाही की जाये। नगर पालिका के लोक निर्माण सेक्शन के कार्यालय का निरीक्षण करते हुये जिलाधिकारी द्वारा जानकारी चाही गयी कि कितने कार्य निमार्णाधीन है तथा पुराने कितने कार्य ऐसे है जिनको निर्धारित समय के बाद भी सम्बन्धित कान्ट्रैक्टर के द्वारा पूरा नही किया गया। 2019-20 निर्धारित समय के एक वर्ष बीत जाने के बाद भी 02 कार्यो को पूरा न करने पर बी0एस0 कान्टैक्शन कान्टैक्टर को नोटिस देने के लिये नोटिस तैयार कर पत्रावली रखा गया है परन्तु उसे तामिला नही कराया गया। इसी प्रकार कई कार्यो में कार्य पूर्ण होने के बाद भी भुगतान न होने पर अवर अभियन्ता सुनील मौर्या के विरूद्ध कार्यवाही के निर्देश जिलाधिकारी द्वारा अपर जिलाधिकारी को दिया गया। पालिका के अनुज्ञा विभाग जनपद में जारी होटलो के लिये कितने लाइसेंस तथा उसके सापेक्ष कितने के द्वारा नवीनीकरण नही कराया गया है तथा कितनो के द्वारा बकाया धनराशि नही जमा किया गया है। की जानकारी करने पर 02 कर्मचारियो द्वारा अलग होटलो की संख्या बताया गयी जिस पर जिलाधिकारी द्वारा कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुये समस्त विवरण की पत्रावली कल तक अपर जिलाधिकारी को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। इसी प्रकार किराये की सम्पत्तियो, सम्पत्ति रजिस्टर आदि के निरीक्षण के दौरान तथा बकायेदारो पर कार्यवाही न करने एवं किराये से वसूले गये धनराशि का सही विवरण की जानकारी न दे पाने पर किराया लिपिक राजाराम मिश्र पर भी कार्यवाही के निर्देश अपर जिलाधिकारी को दिया गया। नगर पालिका में संचालित गाड़ियो के बारे में जानकारी करने पर ई0ओ0 नगर पालिका द्वारा बताया गया कि 06 टैक्टर 04 बड़ी गाड़िया तथा 32 अन्य छोटी गाड़िया नगर में कूड़ा कलेक्शन व अन्य कार्य के चलायी जा रही है। जिलाधिकारी द्वारा इन गाड़ियो पर आने वाले डीजल व्यय पर की समीक्षा के दौरान अपर जिलाधिकारी को विस्तृत सत्यापन करने का निर्देश दिया गया। ई0ओ0 द्वारा यह भी बताया गया कि नगर में कुल 38 वार्ड है, जिसके साफ-सफाई व अन्य कार्य के लिये 508 आउट सोर्सिंग तथा 171 नियमित कर्मचारी कार्यरत है। जिलाधिकारी इसके बाद उपस्थिति रजिस्टर सहित अन्य पत्रावलियो का भी अवलोकन किया गया। तदउपरान्त घन्टाघर स्थित सफाई विभाग एवं स्वास्थ विभाग का भी निरीक्षण किया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने उपस्थित सफाई निरीक्षको को निर्देशित करते हुये कहा कि नगर में सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाय। कही भी कूड़ा व गन्दगी पाये जाने पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.