कोविड वैक्सीनेसन व आयुष्मान कार्ड के कम प्रगति पर जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारियो को लगायी फटकार

मीरजापुर, 15 फरवरी 2021 जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार व पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सिंह ने प्रातः 09ः30 बजे कलेक्ट्रेट सभागार में स्वास्थ विभाग के अधिकारियो के साथ बैठक कर कोरोना के दौरान कार्यरत फ्रंट लाइन वर्कर को लगाये जाने वाले कोविड-19 वेक्सिनेशन के कम प्रगति पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुये स्वास्थ विभाग के सम्बन्धित अधिकारियो को कड़ी फटकार लगायी तथा निर्देशित किया कि आज होने वाले वैक्सीनेसन कम से कम 80 प्रतिशत लोगो को लगाया जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि जिस विभाग के अधिकारी कर्मचारी कोविड का टीकाकरण किया जाना हो तो टीकाकरण के दो दिन पूर्व सम्बन्धित विभाग के कार्यालाध्यक्ष कर्मचारियो की सूची भेजकर अवगत कराये तथा सम्बन्धित विभाग के अधिकारी कर्मचारियों को बूथ पर पहुॅचकर टीका लगवाने हेतु निर्देशित करें। जिलाधिकारी ने कहा कि जिस कर्मचारी को टीका लगाना हो उसके मोंबाइल पर कम से कम एक दिन पूर्व मैसेज किया जाय। उन्होने कहा कि प्रायः संज्ञान में आ रहा है कि अधिकांश लोगो को उसी दिन मैसेज किया जा रहा है। जिसके कारण से कर्मचारी पहुॅच नही पा रहें है। जिलाधिकारी ने कहा कि स्वास्थ विभाग के अधिकारी इसे गमभीरता से लेते हुये शत प्रतिशत लोगो को कार्ययोजना बनाकर टीकारण लगवाना सुनिश्चित कराये। बैठक में पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अधिकांश पुलिस कर्मियो को समय सूचना नही मिल पा रही है जिसके कारण अभी तक मात्र 55 प्रतिशत पुलिस कर्मियो का टीकाकरण हो सका हैं। उन्होने कहा कि एक दिन पूर्व बूथवार सूची उपलब्ध करा दे। ताकि सम्बन्धित पुलिस कर्मी को वारलेस के माध्यम से बूथ पर पहुॅचने के लिये निर्देशित किया जा सके। बैठक में आयुष्मान भारत के अन्तर्गत बनाये जा रहे गोल्डन कार्ड के प्रगति की भी समीक्षा की गयी। जिसमें अपेक्षित प्रगति न आने पर डी0सी0 आयुष्मान भारत को कड़ी फटकार लगाते हुये गाॅव में कैम्प लगाकर गोल्डन कार्ड बनाने का निर्देश दिया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि यदि प्रगति नही आती है तो जिला स्वास्थ समिति की बैठक में लापरवाह कर्मचारियो को हटाने पर भी विचार किया जायेगा। उन्होने कहा कि सबसे बड़े गाॅव जहाॅ गोल्डेन कार्ड ज्यादा संख्या लम्बित है वहाॅ पर प्राथमिकता के आधार पर कैम्प लगाये यह भी कहा कि जिनका गोल्डेन कार्ड बनाया जाना है उसकी सूची सम्बन्धित राशन की दुकानो पर उपलब्ध कराते हुये कोटेदार का सहयोग भी लिया जाय। उन्होने कहा कि सम्बन्धित अधिकारी ग्रामवार समीक्षा करें तथा कार्ययोजना बनाकर गोल्डेन कार्ड बनाने में प्रगति लायी जाये। इस अवसर प्रभारी मुख्य चिकित्साधिकारी, अपर मुख्य चिकित्साधिकारीगण उपस्थित रहें।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.