कोविड-19 के सभी सर्विलांस टीमो को रखा जाय सक्रिय -जिलाधिकारी

VIRENDRA GUPTA 9453821310-
जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में खराब प्रगति पर चार एम0ओ0वाई0सी0 के विरूद्ध कार्यवाही की संस्तुति के निर्देश

प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र हलिया के एम0ओ0वाई0सी0 को जिलाधिकारी ने दिया हटाने का निर्देश

मीरजापुर, 25 फरवरी 2021 जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार की अध्यक्षता में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक आहूत की गयी, जिसमे स्वास्थ विभाग द्वारा संचालित स्वास्थ योजनाओ के प्रगति की समीक्षा की गयी। इस दौरान विभिन्न योजनाओ में नगर, राजगढ़, छानबे एवं हलिया की सबसे खराब प्रगति पर जिलाधिकारी ने प्रभारी चिकित्साधिकारी नगर, राजगढ़, छानबे एवं हलिया के द्वारा कार्य में रूचि न लेने तथा प्रत्येक माह स्वास्थ योजनाओ में अपेक्षित प्रगति न लाने पर इनके विरूद्ध कार्यवाही हेतु शासन को पत्र भेजने के साथ ही एम0ओ0वाई0सी0 हलिया को वहाॅ से हटाने का निर्देश मुख्य चिकित्साधिकारी को दिया है। आयुष्मान भारत की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी द्वारा प्रभारी अधिकारी आयुष्मान भारत को कड़ी फटकार लगाते हुये कहा कि पिछले माह भी कार्ययोजना बनाकर प्रगति लाने के निर्देश के बाद भी अपेक्षित प्रगति न आने पर कार्य योजना बनाकर गोल्डन कार्य बनाने का निर्देश दिया गया। उन्होने कहा कि ऐसे गाॅव का चयन करे जहाॅ पर सबसे कम कार्ड बनाये गये हो उन गाॅवो में कैम्प लगाकर कार्य बनाना सुनिश्चित करे। प्रधानमंत्री मात्र वंदन योजना एवं आशाओ की रिपोर्टिंग में भी विकास खण्ड हलिया मे खराब प्रगति पर सुधार लाने का निर्देश दिया गया। जिलाधिकारी ने 108 व 102 एम्बुलेंस की समीक्षा के दौरान कहा कि शिकायते प्राप्त हुयी है कि कुछ एम्बुलेंस वाहन चालको के द्वारा वाराणसी के एक निजी अस्पताल में मरीज ले जाने की बात संज्ञान में आयी है। उन्होने प्रबन्धक एम्बुलेस को निर्देशित करते हुये कहा कि कड़ी निगरानी रखी जाये। यदि दुबारा शिकायत प्राप्त होती है तो एफ0आई0आर0 दर्ज कराते हुये कड़ी कार्यवाही की जायेगी। अन्यथा निवारण कार्यक्रम में चश्मा वितरण योजना की शून्य प्रगति पर जिलाधिकारी ने कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुये चश्मा क्रय हेतु टेण्डर आदि की कार्यवाही कराते हुये वितरण सुनिश्चित कराये जाने के निर्देश दिये। परिवार नियोजन कार्यक्रम में सिटी, कोन, अरबन, छानबे तथा हलिया के कम प्रगति पर नाराजगी व्यक्त करते हुये निर्देशित किया कि सम्बन्धित अपर मुख्य चिकित्साधिकारी व्यक्तिगत रूचि लेते हुये कैम्प लगाकर प्रगति लाये। बैठक में जननी सुरक्षा योजना, टो बैको, कुष्ट रोग नियंत्रण, शहरी स्वास्थ एवं पोषण दिवस, क्षय नियंत्रण कार्यक्रम सहित सभी बिन्दुओ की समीक्षा करते हुये अगले माह प्रगति लाने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने कहा कि बुकलेट में दिये गये आकड़े व रिपोटिंग एम0ओ0वाई0सी0 स्वयं देखते हुये सही रिपोर्टिंग करे अन्यथा कार्यवाही की जायेगी। इस असवर पर यूनीसेफ के कार्यो की समीक्षा की गयी।

जिलाधिकारी ने सभी प्रभारी चिकित्साधिकारियो अपर मुख्य चिकित्साधिकारियो को निर्देशित करते हुये कहा कि कोविड-19 के दृष्टिगत कोरोना की जाॅच के लिये सभी सर्विलांस टीमो को सक्रिय किया जाय तथा प्रत्येक अस्पतालो मे कोविड हेल्प सेंटर को भी सक्रिय करते हुये आने वाले लोगो की जाॅच की जाये। उन्होने कहा कि कोविड केस अभी बन्द नही है कई स्थानो पर कोविड केस मिलने की सूचनाये प्राप्त हो रही है जनपद प्रयागराज में भी प्राप्त जानकारी के अनुसार लगभग 25 केस पाये गये है। उन्होने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि सभी स्वास्थ कर्मियो सर्विलास टीमो जाॅच सेंटरो को सक्रिय करते हुये यह सुनिश्चित करें कि जनपद में कोरोना का केस न बढ़ने पाये। इसके लिये उन्होने कहा कि महराष्ट्र सहित अन्य महानगरो से जहाॅ पर कोरोना के केस अभी भी पाये जा रहे है वहाॅ से आने वाले लोगो को पर कड़ी निगरानी रखी जाये तथा आने पर उन्हे कम से कम एक सप्ताह क्वारेंटीन रखा जाय। इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 पी0डी0 गुप्ता, एस0आई0सी0 जिला चिकित्सालय डा0 कमल कुमार, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अजय सिह, डा0 नीलेश श्रीवास्तव के अलावा अन्य सभी सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहें।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.