रात भर मशीन चलाने की वजह से इलाकों के लोगों का रहना हुआ दुश्वार, मिर्जापुर


स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया है कि एस पी आवास के बगल वाली गली के अंदर बड़ी-बड़ी मशीनों के उपयोग से खूब तेज आवाजें उठती हैं मोहल्ले के लोग रात में सो नहीं पाते जब इलाके के लोग आवाज से तंग आकर मना करने के लिए जाते हैं तो मशीन के संचालकों के द्वारा अभद्रता किया जाता है। लोगों का आरोप है कि यदि बिजली विभाग ईमानदारी से जांच करें तो यहां इस इलाके में बड़े बिजली चोरी का भी मामला सामने आ सकता है। ध्वनि प्रदूषण खुलेआम सारी रात फैलाया जा रहा है इलाके के लोगों ने नाम न छापने की शर्त पर कहा कि तत्काल इस तरीके के अवैध रूप से मशीनों के संचालन को रोक देना चाहिए ताकि रहाईसी इलाके में रहने वाले लोगों को ध्वनि से हो रही समस्याओं का सामना ना करना पड़े। पीड़ितों ने बताया कि घर के लोग बीमार रहते हैं बुजुर्ग अवस्था के भी लोग घरों में रहते हैं ऐसे में मशीनों की आवाज से बेचैनी उत्पन्न होना घबराहट होना आदि समस्या निरंतर बनी रहती है आवाज इतना भयानक होता है कि टेलीफोन से बातचीत भी व्यक्ति नहीं कर पाता और ना ही बच्चे पढ़ पाते है। बताया गया कि इसमें से एक बड़ी मशीन रंदा मारने की और अल्मुनियम काटने की कटर मशीन और भी कई मशीनें है। इलाके के लोगों की शिकायत है कि मशीनें ज्यादातर रात में ही चलाई जाती है ,जैसे कि 8:00 बजे के बाद शुरू होता है और रात के एक 1:30 बजे तक चलता है इनका काम सुबह भोर में भी और तो और कारोबार इतना बड़ा हो गया है कि सड़कों पर भी आने जाने का रास्ता भी बंद हो जाता हैं । इलाके के लोगों को हो रही समस्या से निजात दिलाए जाने का पीड़ित प्रार्थी ने जिला प्रशासन से मांग किया है।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.