गोल्डन कार्ड की अपेक्षित प्रगति न आने पर जिलाधिकारी ने व्यक्त की नाराजगी

आई0जी0आर0एस0 के लम्बित प्रकरणो के निस्तारण न होने पर होगी कार्यवाही -जिलाधिकारी

शासन की प्राथमिकता वाले कार्यक्रमो के प्रगति की समीक्षा के दौरान

मीरजापुर, 05 मार्च, 2021/जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने आज कलेक्ट्रेट सभागार मे शासन की विकास प्राथमिकता वाले बिन्दुओ के प्रगति की समीक्षा की। इस दौरान आयुष्मान भारत योजनान्तर्गत बनाये जा रहे गोल्डन कार्ड मे अपेक्षित प्रगति न आने पर जिलाधिकारी ने कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुये मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि ऐसे ग्राम सभा जिसमे एक भी गोल्डन कार्ड नही बनाये गये है वहाॅ पर कैम्प लगाकर गोल्डन कार्ड बनाना सुनिश्चित करे। आई0जी0आर0एस0 मे लम्बित प्रकरणो की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियो को निर्देशित करते हुये कहा कि आई0जी0आर0एस0 में प्राप्त प्रार्थना पत्रो को अधिकारी गम्भीरता से लेते हुये समयबद्ध तरीके से गुणवत्तापूर्ण ढंग से निस्तारण सुनिश्चित कराये। किसी विभाग मे डिफाल्टर प्रकरण पाये जाने पर सम्बन्धित अधिकारी के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी। जिलाधिकारी ने जल निगम के कार्यो की समीक्षा के दौरान कहा कि गर्मी के दृष्टिगत जनपद के सभी हैण्डपम्पो की जाॅच करते हुये जो हैण्डपम्प रिबोर या मरम्मत के योग्य हो उसे प्राथमिकता के आधार पर मरम्मत कराये ताकि पेयजल की परेशानी न होने पाये उन्होने यह भी कहा कि जिन गाॅवो में पानी का जलस्तर नीचे चला जाता है वहाॅ पर पेयजल हेतु टैंकर की व्यवस्था सुनिश्चित करा ले। अमृत योजना में अपेक्षित प्रगति न आने पर अधिशाषी अभियन्ता जल निगम को कड़े निर्देश देते हुये कहा कि योजना के निर्माण मे तेजी लाकर प्रगति लाये। तथा घरो मे कनेक्शन देते हुये खोदाई किये गये सड़को की मरम्मत भी सुनिश्चित कराये। बैठक में अधिशाषी अभियन्ता ने बताया कि कुल 2603 कनेक्शन 30 दिसम्बर 2021 तक लक्ष्य निर्धारित है जिसके सापेक्ष मार्च माह के अन्त तक 500 कनेक्शन पूर्ण करा लिया जायेगा। गौ आश्रय स्थलो मे रह रहे शत प्रतिशत पशुओ का ईयर टैंगिंग कराने हेतु मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया गया। सिचाई विभाग सिरसी प्रखण्ड के समीक्षा के दौरान बताया गया कि 12 नहरो मे अपर खजुरी जलाशय मे पर्याप्त पानी न होने के कारण टेल तक पानी पहुॅचाया नही जा सका जिलाधिकारी बिजली विभाग की समीक्षा के दौरान कहा कि सभी सरकारी विभाग जिनका बिजली बिल बकाया है वे अपने मुख्यालय से बजट की मांग करते हुये तत्काल जमा कराना सुनिश्चित करे। निर्माणाधीन कार्यो की समीक्षा के दौरान कहा कि जिस परियोजना मे बजट प्राप्त नही है वे दो दिन के अन्दर (जिलाधिकारी स्तर से) पत्र विभाग को भेज कर बजट की मांग कर ले।लघु सिचाई विभाग के निशुल्क बोरिंग की कम प्रगति पर नाराजगी व्यक्त करते हुये कार्य मे तेजी लाने का निर्देश दिया गया सामुदायिक शौचालय एवं पंचायत भवन के अवशेष कार्यो मे तेजी लाते हुये पूर्ण कराया जाये। बैठक मे पाइप पेयजल योजना अन्तर्गत बताया गया कि तीन कार्ड पूर्ण कराये जा चुके है शेष सात कार्यो मे पत्राचार के बाद भी अभी तक धन अवमुक्त नही किया गया है। बैठक में कौशल विकास, सामूहिक विवाह, प्रधानमंत्री आवास शहरी एवं ग्रामीण, एन0आर0एल0एम0, मनरेगा, उद्योग विभगा, ओ0डी0ओ0पी0 एक जनपद एक उत्पाद, आपूर्ति विभाग, खादी ग्रामोद्योग, आई0सी0डी0एस0, चैदहवा वित्त, पार्को का सौदर्यीकरण, स्वास्थ विभाग सहित सभी विभागो के बिन्दुवार समीक्षा की गयी तथा कार्य मे तेजी लाने का निर्देश दिया गया। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अविनाश सिंह, परियोजना निदेशक डी0आर0डी0ए0 ऋषि मुनि उपाध्याय, जिला पंचायत राज अधिकारी श्री अरविन्द कुमार, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी कैलाश नाथ, अधिशाषी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग कन्हैया झा, विद्युत ए0के0 सिंह के अलावा अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहें।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.