चैत्र नवरात्रि मेला के दृष्टिगत स्थलीय निरीक्षण कर किया बैठक -मण्डलायुक्त

VIRENDRA GUPTA 9453821310-
मीरजापुर दिनांक 06 अप्रैल 2021/ मां विन्ध्यवासिनी के पावन धाम में चैत्र नवरात्रि मेला के दृष्टिगत संयुक्त टीम द्वारा स्थलीय निरीक्षण किया गया, एवं बैठक कर आवश्यक कार्यवाही एवं दिशा निर्देश दिये गये। मण्डलायुक्त योगेश्वर राम मिश्र ने मां विन्ध्यवासिनी के प्रति देश एवं विदेश के श्रद्धालुओ की आगाध आस्था का केन्द्र बताते हुये धार्मिक एवं अध्यात्मिक आयाम की चर्चा की। मण्डलायुक्त ने कहा कि मन्दिर परिसर के विस्तारीकरण एवं सौदर्यीकरण हेतु दृष्टिगत साफ-सफाई एवं बैरीकेटिंग कर श्रद्धालुओ के आवागमन को समुचित व्यवस्था प्रबन्ध पर बल दिया। आगामी मेले के दृष्टिगत अब ध्वस्तीकरण का काम पुर्णिमा तक रोककर, गलियो एवं सड़को के मलबो को हटाकर, साफ-सफाई एवं मेले की चाक चैबन्द व्यवस्था पर निर्देश दिया। मण्डलायुक्त ने प्रशासन द्वारा निर्धारित पार्किंग स्थल पर सभी प्रकार की गाड़ियो के ठहराव की बात कही एवं अवैध व्यक्तिगत पार्किंग पर पुलिस को निगरानी रखने को कहा। किसी भी वी0आई0पी0 व्यक्ति का वाहन निर्धारित पार्किंग मे ही खड़ी होगी। किसी भी दशा मे गाड़िया मन्दिर परिसर तक नही जायेंगी। मन्दिर दर्शन हेतु श्रद्धालुओ के सुविधागत सड़को, गलियो, पार्किंग स्थलो के लिये संकेतक चिन्ह एवं दुकानो के लिये नम्बर क्रमांक बोर्ड लगाने पर बल दिया। रेलवे स्टेशन, बस अड्डो पर, श्रद्धालुओ की भीड़ को नियन्तित्र करने हेतु साफ-सफाई, जहर खुरानी एवं ठगो पर विशेष निगरानी, आवश्यक रेल गाड़ियो एवं बसो का संचालन, कोविड-19 एन्टीजन टेस्ट एवं पूछताछ जानकारी केन्द्र हेतु साइन बोर्ड लगाने का भी निर्देश दिया। मण्डलायुक्त ने पूरे नवरात्रि मेला के समय एवं मेला क्षेत्र को कोविड-19 के दिशा निर्देशो के अधीन सभी श्रद्धालुओ को मास्क पहने, सेनिटाइज एवं थर्मल स्कैनिंग के बाद ही दर्शन सुनिश्चित कराने को कहा। बीमार व्यक्तियो को पी0पी0ई0किट पहनकर एवं विकलांग व्यक्तियो को व्हील चेयर एवं सहायक उपलब्ध कराते हुये एक निश्चित टाइम जोन मे दर्शन कराने की बात कही। मन्दिर परिसर से गंगाघाटो को जाने वाली सड़को को विशेष व्यवस्थित कर घाटो की साफ-सफाई, प्रकाश व्यवस्था एवं जल पुलिस, एन0डी0आर0एफ0 टीम एवं गोताखोरो की उपलब्धता को सुनिश्चित किया जाये।

जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने ध्वस्तीकरण के बाद लटके सरिया एवं मलबो को तत्काल हटाते हुये समुचित व्यवस्था पर प्रकाश डाला। उन्होने मेले की व्यवस्था मे लगे हुये सभी प्रशासनिक अधिकारियो, सफाई एवं स्वास्थ कर्मियो को मेले को समुचित सकुशल सम्पन्न कराने एवं जवाबदेही सुनिश्चित करने हेतु मोबाइल नम्बर एवं फोटोयुक्त पहचान पत्र जारी करने पर बल दिया। पुलिस अधीक्षक ने पार्किंग विवाद से बचने के लिये निश्चित पार्किंग स्थल एवं निर्धारित रेट सूची लगाने का निर्देश दिया। निर्धारित एकल रास्ता व प्रवेश एवं निकास द्वार से ही श्रद्धालुओ के दर्शन को सुनिश्चित किया जाये। किसी भी दशा मे इसका उल्लघन न होने के लिये पुलिस को कड़ी निगरानी हेतु प्रतिबद्ध किया। पूजा पाठ एवं दर्शन हेतु पण्डा समाज के वैध सदस्यो को ही पहचान कार्ड जारी किया जायेगा। पूरी बैठक के दौरान सम्बन्धित सभी अधिकारियो को कार्य एवं जवाबदेही सुनिश्चित करते हुये पेयजल व्यवस्था, साफ-सफाई, शौचालय, प्रकाश व्यवस्था, यातायात डायवर्जन, मन्दिर के चारो तरफ टेन्ट, मैट एवं फैन लगाये जाने, निर्बाध विद्युत आपूर्ति, कन्ट्रेाल रूम से निगरानी तन्त्र, चिकित्सा हेतु इमरजेंसी एवं रेगुलर टीम एवं आवागमन एवं ठहराव हेतु सभी सम्भावित स्थलो पर श्रद्धालुओ के सुविधागत सभी अयामो पर गहन विशलेषण करते हुये नवरात्रि मेले को सकुशल सम्पन्न कराने हेतु कामना की गयी। इस दौरान नगर मजिस्ट्रेट, उप जिलाधिकारी सदर, अधिशाषी अधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी, अपर मुख्य अधिकारी, सभी अभियन्तागण, पण्डा समाज के पदाधिकारी एवं जनता जर्नादन उपस्थित रहे।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.