50 लाख से अधिक लागत की निर्माणाधीन परियोजनाओ पर बैठक सम्पन्न

वीरेंद्र गुप्ता मिर्ज़ापुर

शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता कार्यक्रम की किया समीक्षा -जिलाधिकारी
परियोजनाओ को गुणवत्तापूर्ण एवं ससमय पूर्ण करने का दिया निर्देश

मीरजापुर, 08 जून , 2021/ जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षयकार ने कलेक्ट्रेट सभागार में 50 लाख से अधिक लागत के शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता कार्यक्रमो की बैठक करते हुये निर्माण निर्माण कार्यो की समीक्षा किया। इस दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि 50 लाख के ऊपर की परियोजना कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाशत नहीं होगी। उन्होंने गुणवत्ता के साथ ही कार्य के समय पर भी जोर दिया। बैठक में कुछ एजेंसियों दौरा बताए गया कि बजट के भाव में कुछ परियोजनाओं का कार्य बाधित है जिस पर जिलाधिकारी ने कहा कि इसके लिए लेटर तैयार करा कर उनके माध्यम से शासन को प्रेषित किया जाए ताकि धन की व्यवस्था हो सके। बैठक में बताया गया कि जिले में सीएंडडीएस यूनिट-38 जल निगम सोनभद्र, उत्तर प्रदेश आवास विकास परिषद वाराणसी, यूपी प्रोजेक्ट कारपोरेशन लिमिटेड यूनिट 16 मीरजापुर, यूपी सिडको मीरजापुर, उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम सोनभद्र इकाई, उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम भदोही, सेतु निगम, यूपीआरएनएसएस मीरजापुर, ग्रामीण अभियंत्रण विभाग मीरजापुर क्रांति खंड लोक निर्माण विभाग मीरजापुर के कुल 97 कार्य चल रहे हैं जिनमें से लगभग आधे कार्य हो चुके हैं शेष कार्य प्रगति पर है। समीक्षा बैठक मे विद्युत विभाग की स्थानीय स्तर पर भुगतान होने वाले सरकारी विभागो के विद्युत बकाये के अद्यतन विवरण पर बल दिया गया। सेतु निगम द्वारा निर्मित एवं निमार्णाधीन 05 परियोजनाओ की स्थिति पकी समीक्षा की गयी। इस दौरान जिलाधिकारी द्वारा पुलिस लाइन स्थित निर्माणाधीन कार्य की भी समीक्षा की गई। सोलर फोटोवोलटाई सिचाई पम्प की आपूर्ति एवं स्थापना एवं प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना पर बल दिया गया । निराश्रित गौवंश को संरक्षित करना, पशु टीकाकरण कार्यक्रम, सहभागिता योजना की समीक्षा की गयी। स्वास्थ विभाग मे संविदा पर नियुक्ति, प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, 108 नम्बर एम्बुलेंस की सेवा, जननी सुरक्षा योजना, आशाओ का भुगतान, वैक्सीनेशन आदि बिन्दुओ पर जोर दिया गया। पंचायत राज विभाग की समीक्षा में जिलाधिकारी ने कहा कि प्रस्तावित पंचायत भवने जल्द ही पूर्ण हो जानी चाहियें। उन्होने आपरेशन कायाकल्प हैण्डपम्प रिबोर पर बल दिया। जिलाधिकारी ने बताया कि परेवा, वन एवं जलवायु परिवर्तन अनुभाग लखनऊ द्वारा 2021-22 के लिये विभागवार आवंटित वृक्षारेापण लक्ष्य 68 लाख 12 हजार 260 हैं। जिनके लिये गढ्ढा खुदाई कार्य को प्रगति से पूर्ण करना हैं। जिलाधिकारी ने अमृत योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण अजिविका मिशन, प्रधानमंत्री आवास शहरी (डूडा), वृद्धावस्था पेशन, छात्रवृत्ति, कोटेदार के रिक्त दुकानो, आई0सी0डी0एस0 उत्तर प्रदेश पोजेक्ट कार्पोरेशन लिमिटेड के स्ट्रीट लाइट, निर्मित मेडिकल कालेज आदि योजनाओ का समग्रता से विशलेषण किया। जिलाधिकारी ने कार्यदायी संस्था सी0एण्ड0डी0एस0 एवं पैक फेड को कार्य मे ढिलाई एवं लापरवाही बरतने पर कड़ी फटकार लगाते हुये गुणवत्तापूर्ण निर्धारित समय सीमा मे कार्य पूर्ण करने का निर्देश दिया। बैठक मे राजकीय निर्माण निगम लिमिटेड के एस0आई0टी0 जाॅच मे लम्बित कुछ परियोजनाओ के प्रकरण मे विकासात्मक रूप अपनाया गया। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्लक्ष्मी वीएस, परियोजना निदेशक डी0आर0डी0ए0 ऋषि मुनि उपाध्याय, जिला पंचायत राज अधिकारी अरविन्द्र कुमार, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी कैलाश नाथ, अधिशाषी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग कन्हैया झा, विद्युत ए0के0 सिंह के अलावा अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहें।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.