वीरपुर के ग्राम प्रधान की शिकायत पर जिला प्रशासन ने जांच के लिए बनाई कमेटी, मिर्जापुर


मिर्जापुर ग्राम सभा वीरपुर के नवनिर्वाचित प्रधान पुष्प लता बिंद ने ग्राम पंचायत अधिकारी के ऊपर पूर्व प्रधान से मिलकर इलाके के विकास में भारी अनियमितता करने का आरोप लगाते हुए संपूर्ण जनपद में सनसनीखेज पैदा कर दिया है। जनपद मिर्जापुर में पहली बार इस तरीके के प्रधान स्तर से आरोप लगाए जाने के मामले से इलाके के लोग अनुमान लगा रहे हैं कि यदि नवनिर्वाचित महिला ग्राम प्रधान पुष्पलता बिंद के द्वारा लगाए जा रहे आरोपों का सत्यता से जांच उच्च अधिकारियों के द्वारा हो जाए तो दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा। पुष्प लता बिंद के पति व प्रधान के प्रतिनिधि ने आरोप लगाते हुए कहा कि गांव को पूर्व में ओडीएफ घोषित कर दिया गया जबकि ग्रामीणों ने शौचालय बनवाए जाने के लिए 300 के आसपास आवेदन उनसे किया है व्यापक पैमाने पर शौचालय के लिए लोग अभी भी बाहर जाने को मजबूर है ऐसे में बड़ा सवाल है कि जब गांव में 300 शौचालय बनाए जाने की डिमांड उठ रही है तब किस आधार पर ओडीएफ घोषित किया गया इसकी भी जांच कराए जाने की मांग की गई है ।
इस संदर्भ में ग्राम पंचायत अधिकारी से संपर्क करने का प्रयास किया गया मगर वार्ता नहीं हो सकी ।पूर्व में कराए गए तमाम कार्यों में अनियमितता देख रहे नव निर्वाचित ग्राम प्रधान पुष्पलता बिंद के प्रतिनिधि ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर भी ग्राम पंचायत अधिकारी की शिकायत दर्ज कराई है।नव निर्वाचित महिला ग्राम प्रधान पुष्प लता बिंद ने बताया कि जनपद मिर्जापुर में मुख्य विकास अधिकारी जिलाधिकारी मिर्जापुर और खंड विकास अधिकारी को भी पत्र के माध्यम से संपूर्ण घटनाक्रम से अवगत करा दिया गया है। आरोप लगाया जा रहा है कि अभी भी पूर्व प्रधान के निर्देश पर ही ग्राम पंचायत अधिकारी संचालित हो रहे हैं ।नवनिर्वाचित वर्तमान ग्राम प्रधान पुष्प लता बिंद से न तो ग्राम पंचायत अधिकारी के द्वारा गांव के विकास से संबंधित कोई बैठक कर रहे हैं और ना ही कोई वार्ता कर रहे है।बिना उनके सहमति से रुपए भी निकाल लिए जाने का आरोप नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान की ओर से लगाया जा रहा है। जानकारों की माने तो नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान अपने क्षेत्र में ईमानदारी की मिसाल पेश करके मंझवा विधानसभा क्षेत्र से विधायक के लिए अपनी छवि और सुदृढ़ करना चाहते हैं ।वीरपुर ग्राम सभा में किसी भी स्तर पर अनियमितता भ्रष्टाचार को बर्दाश्त न करते हुए सरकार के एक एक रुपए को जनता के हित में लगा देने की कसम को दोहराते हुए नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान पुष्प लता बिंद ने कहा की पूरे जनपद में बीरपुर ग्राम सभा ऐसा ग्राम सभा होगा जहां एक एक रुपए का हिसाब जनता जब चाहे तब देख सकती है और कमीशन बाजी निर्माण के दौरान घटिया सामग्री का इस्तेमाल किसी भी स्तर पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा ।महिला ग्राम प्रधान के तेवर को देखते हुए कई अधिकारियों के साथ पूर्व प्रधान की भी मुश्किलें बढ़ने की संभावना पर इलाके में चर्चा जोरों पर है।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.