मिर्ज़ापुर सांसद काफिले पर हमला से जनपदवासियों में भी भारी आक्रोश

आज दिनाँक 11.09.2016 को केन्द्रीय स्वास्थ्य एंव परिवार कल्याण राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल के कार्यक्रम के दौरान प्रतापगढ़ रानीगंज थाने के सामनें उनके काफिले पर सपा के कार्यकर्ताओं द्वारा गाड़ी पथराव और हमलें पर अपना दल जिलें के कार्यकर्ताओं नें भरूहना स्थित जिला कार्यालय पर बैठक कर अपना दल के जिलाध्यक्ष रमाकान्त पटेल नें गहरा आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि जब सपा सरकार में केन्द्रीय राज्यमंत्री अपना दल की राष्ट्रीय अनुप्रिया पटेल सुरक्षित नही है तो आम जनता का क्या हाल होगा। सपा के कार्यकर्ता खुलेआम गुण्डागर्दी कर रहे है और पुलिस प्रशासन मुक दर्शक बनी हुई है। प्रदेश के अन्दर कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त है। केन्द्र की सरकार को उत्तर प्रदेश के अन्दर राष्ट्रपति शासन लगाना चाहिए। अपना दल के नेता डा. अनिल सिंह पटेल नें कहा कि जिस प्रकार से केन्द्रीय स्वास्थ्य एंव परिवार कल्याण राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल, अपना दल के विधायक और प्रदेश अध्यक्ष डा0 आर0के0वर्मा के साथ मारपीट तथा सपा के कार्यकर्ताओं द्वारा हमला किया गया। उससें सपा सरकार की ध्वस्त कानून व्यवस्था की पोल खुल गई। शासन-प्रशासन सपा के इशारे पर कार्य कर रही है। यदि जल्द दोषी सपाई कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार नही किया गया तो अपना दल जिले के कार्यकर्ता सड़क पर सपा के खिलाफ आन्दोलन के लिए बाध्य होगें। बैठक में मुख्यरूप सें रमाकान्त पटेल, मेघनाथ पटेल, डा0 एस0पी0 पटेल, रमाशंकर पटेल, राधेश्याम पटेल, राजकुमार पटेल, अर्जुन पटेल, तुलसीदास पाल, शिवप्रसाद विश्वकर्मा, इं0 त्रिलोक सिंह, डा0 अनिल सिंह, अवधेश पटेल, राजदीप पटेल, रमेश नेता, संजय उपाध्याय, गोपाल दास शर्मा, बाबूलाल धरकार, बसन्त लाल पाल, लालबहादुर सिंह, जयशंकर पटेल, नेमीशंकर पटेल, आनन्द सिंह पटेल, उदय पटेल, विजय कुमार शर्मा, सत्यनारायण पटेल, श्रीमती रानी सिंह, शशिकान्त सिंह, पुरूषोत्तम अग्रहरी, डा0 शिवपूजन, सुखराज पटेल,ललित पटेल, सुजीत पटेल, रामसहाय, शिवकुमार कुमार सिंह, पिन्टु पटेल, प्रेमसागर, रितेश कुमार सिंह, राजबहादुर सिंह, रामजतन पटेल, कन्हैया लाल पाल, गुलाब बहादुर आदि प्रमुख कार्यकर्ताओं नें सपा सरकार के खिलाफ आक्रोश व्यक्त किया।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.