सभी तहसीलो में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में सुनी गयी फरियादियो की समस्याये,मिर्जापुर


जनपद के सभी तहसीलो में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में सुनी गयी फरियादियो की समस्याये
मुख्य विकास अधिकारी ने तहसील सदर मेेे उपस्थित होकर सुनी जनसमस्याये
तहसील सदर में मुख्य विकास अधिकारी के समक्ष प्राप्त 65 शिकायतो में 05 का मौके पर किया गया निस्तारण
शिकायतो का निस्तारण एक सप्ताह मे अवश्य कर लिया जायें -मुख्य विकास अधिकारी
मीरजापुर, 17 जुलाई 2021/ प्रदेश सरकार के निर्देश के अनुपालन में कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत जनता जर्नादन की समस्याओ को तहसील स्तर पर ही निराकरण करने के उद्देश्य से जनपद के चारो तहसीलो में लगभग 04 माह बाद अब प्रथम एवं तृतीय शनिवार को सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। मुख्य विकास अधिकारी श्रीलक्ष्मी वीएस एवं पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी यू0पी0 सिंह, के द्वारा तहसील सदर के सम्पूर्ण समाधान दिवस में उपस्थित होकर समस्याओ को सुना गया। तहसील सदर की तरह जनपद के अन्य तहसीलो चुनार मे अपर जिलाधिकारी भू-राजस्व, लालगंज एवं मड़िहान मे भी सम्पूर्ण समाधान दिवस की कार्यवाही के दौरान सोशल डिस्टेसिंग का अनुपालन करते हुये थर्मल स्कैनिंग, सेनेटाइजर, मास्क आदि की व्यवस्था की गयी। उपस्थित अधिकारियो के समक्ष विभिन्न विभागो से सम्बन्धित तहसील सदर में कुल 64 फरियादियो के द्वारा अपनी समस्याओ से अवगत कराया गया जिसमें मुख्य विकास अधिकारी द्वारा 05 प्रार्थना पत्रो को मौके पर ही निस्तारित करते हुये शेष 59 प्रार्थना पत्रो को सम्बन्धित विभाग के अधिकारियो को निर्धारित समय सीमा के अन्दर गुणवत्तापूर्ण ढंग से निस्तारित करने का निर्देश दिया गया। फरियादी विनोद कुमार दूबे निवासी- कंतित पहाड़ी थाना पड़री के मामले पर कार्यवाही करते हुये भूमि पर विपक्षी द्वारा अनावश्यक किये जा रहे हस्तक्षेप को मना कराते हुये सरहंग विपक्षी के विरूद्ध कठोर कार्यवाही कराने के प्रार्थना पत्र पर तुरन्त अधिकारियो को निस्तारण का निर्देश दिया गया। इसी तरह राधेश्याम पाठक निवासी-दबेपुरा पटखौली तप्पा परगना कंतित सदर के पैतृक जमीन बटवारे के शिकायत पत्र पर सम्बन्धित अधिकारी को स्थलीय परीक्षण कर निस्तारण करने को कहा गया। तहसील सदर में जमीन पर अवैध कब्जा, पैमाइश चकबन्दी, पुलिस विभाग, नाली खंड़ंजा, विद्युत विभाग, जिलापूर्ति विभाग के अधिकांश प्रार्थना पत्र प्राप्त हुये। एक फरियादी की जमीन से सम्बन्धित 2012 के मामले को मुख्य विकास अधिकारी ने मौके पर अधिकारियो को बुलाकर तत्काल निस्तारित कराया। इस असवर पर अपर जिलाधिकारी ने कहा कि सम्पूर्ण समाधान दिवस पर प्राप्त प्रार्थना पत्रो को अधिकारी गुणवत्तापूर्ण ढंग से एक सप्ताह केे अन्दर निस्तारण कराना सुनिश्चित कराये। गुणवत्तापूर्ण निस्तारण न पाये जाने पर सम्बन्धित अधिकारी/कर्मचारी के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी। मुख्य विकास अधिकारी ने उपस्थित अधिकारियो को सम्बोधित करते हुये कहा कि शिकायतकर्ता की बातो को ध्यान से अवश्य सुने तथा शिकायत के निस्तारण हेतु मौके पर जाकर जाॅच करते समय शिकायतकर्ता अथवा वहाॅ पर उपस्थित व्यक्तियो के हस्ताक्षर अवश्य कराये। उन्होने कहा कि आई0जी0आर0एस0 के निस्तारण मे डिफाल्टर कदापि नही होना चाहिये, प्राप्त संदर्भो का ससमय निस्तारित करते आख्या को पोर्टल पर अपलोड किया जाय। जन सूचना अधिकार अधिनियम के अन्तर्गत सभी विभाग के नोडल अधिकारियो को निर्देश दिया कि सप्ताह मे एक बार जन सूचना शिकायत का निस्तारण अवश्य करे। इस अधिकार के तहत मांगी गयी सूचना लेखपाल, ग्राम विकास अधिकारी के जाचोपरान्त खण्ड स्तर के अधिकारी द्वारा पुनः परीक्षण कर प्रमाणिक सूचना प्रदान की जाय। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, उप जिलाधिकारी गौरव श्रीवास्तव, पुलिस उपाधीक्षक शैलेन्द्र त्रिपाठी, तहसीलदार सुनील कुमार, सभी संबंधित विभाग के अधिकारी गण मौजूद रहे।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.