कृष्णमूर्ति ने घटना कि कड़े शब्दों में निंदा किया

इलाहाबाद में समाजवादी युवजन सभा के जिला अध्यक्ष के द्वारा सरेशाम अपने दर्जनों गुर्गो के साथ गुंडई किए जाने का वीडियो वायरल होने के उपरांत इलाहाबाद जिला प्रशासन संज्ञान में लेते हुए त्वरित कार्रवाई करते हुए संदीप यादव व उनके 50 सहयोगियों के खिलाफ मुकदमा कायम कर लिया है | इस घटना के बाद फिर समूचे उत्तर प्रदेश के व्यापारियों ने व्यापारी के ऊपर हुए इस घटना का एक स्वर में विरोध किया है | समाजवादी पार्टी इलाहाबाद के जिलाध्यक्ष कृष्ण मूर्ति यादव ने जिला अध्यक्ष युवजन सभा के द्वारा किए गए गुंडई का निंदा की है | कृष्णमूर्ति मीडिया से बात करते हुए बताया की ऐसी घटना कि हम कड़े शब्दों में निंदा करते हैं |जल्दी इसकी जांच होनी चाहिए |और दोषियों पर कार्रवाई होनी चाहिए | जब उनसे पूछा गया समाजवादी पार्टी के युवजन सभा के अध्यक्छ के द्वारा ऐसी घटना होती है तो क्या समाजवादी पार्टी की छवि में गिरावट होती है उनका कहना था कि ऐसी घटनाएं अनुशासनहीनता में आती है इसे न पार्टी के लोग बर्दाश्त करेंगे न ही हमारे मुख्यमंत्री| हमारे प्रदेश अध्यक्ष इस तरीके की घटनाओं के सख्त विरोधी हैं | ऐसी घटना की जितनी निंदा की जाए वह कम है |इलाहाबाद के जिलाध्यक्ष भी इस मामले में सख्त कार्रवाई की मांग करते हैं उन्होंने कहा कि जो भी व्यक्ति दोषी है उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए |जानकार बताते हैं इस तरीके से सपा नेता के द्वारा सरेशाम गुंडई का मामला प्रकाश में आने के बाद प्रदेश का शीर्ष नेतृत्व इस पर कड़ा निर्णय ले सकता है | समाजवादी पार्टी अपनी छवि सुधारने के लिए प्रयासरत है वहीं कुछ छुट भैए नेता की गलती से पूरी पार्टी की छवि बदनाम होने लगती है जिसका फायदा अन्य राजनीतिक विरोधी दल लेने लगते है | इसी संदर्भ में मिर्जापुर में भी अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के तत्वाधान में एक बैठक आहूत की गई जिसमें मुख्यमंत्री अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश राज्यपाल व बहुजन समाज पार्टी मुखिया मायावती को पत्र भेजकर यह बताया गया है उत्तर प्रदेश में गुंडाराज जंगलराज इस पार्टी के द्वारा कायम किया जा रहा है |व्यपारियो ने पुछा की क्या सपा यही गुंडई के बल पर २११७ का चुनाव जितने का मन बना रहे है येदी यही मन सपाइयों का है तो जनता भी मन बना चुकी है| येदी अपराधी व् गुंडों को पार्टी से तत्काल नहीं निकल गया तो इसका हिसाब जनता चुनाव में करगी क्योकी इस घटना ने सपा की गुंडई सबके सामने कर दी | आपको बता दे की पूरा घटना इलाहाबाद : सिविल लाइंस स्थित मोबाइल शॉप पर बवाल के मामले में सिविल लाइंस थाने में समाजवादी युवजन सभा के जिलाध्यक्ष संदीप यादव समेत 50 अज्ञात के खिलाफ लूट का मुकदमा दर्ज हुआ है। व्यापारी विपिन गुप्ता की शिकायत पर डीएम संजय कुमार के निर्देश पर सयुस जिलाध्यक्ष से गनर भी वापस ले लिया गया है। शॉप पर सपाइयों के हंगामे की वीडियो फुटेज मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव को भेजी गई है। व्यापारी का कहना है कि सपाइयों की गुंडई की पूरी रिकार्डिग है जिसे सीएम तक पहुंचाया जाएगा। सोमवार की रात सिविल लाइंस काफी हाउस के पास स्थित विपिन गुप्ता की मोबाइल शॉप पर सपाइयों ने हंगामा किया था। दुकान में तोड़फोड़ कर रुपये निकाल लिए थे। आरोप सयुस के जिलाध्यक्ष संदीप यादव और उनके साथ गए 40-50 युवकों पर लगा। मंगलवार को व्यवसायी विपिन गुप्ता ने डीएम संजय कुमार और पुलिस अधिकारियों से शिकायत कर सीसीटीवी कैमरे की फुटेज सौंपी। विपिन की तहरीर पर सिविल लाइंस थाने में संदीप यादव और 50 अज्ञात पर लूट का मुकदमा दर्ज हो गया। फुटेज में संदीप के साथ खाकी वर्दी में गनर भी था। डीएम संजय कुमार ने मामले को गंभीरता से लेते हुए तत्काल गनर वापस कराने का निर्देश दिया। शाम को सपा नेता से गनर छीन लिया गया। सीओ सिविल लाइंस आलोक मिश्र का कहना है कि रिपोर्ट दर्ज कर जांच की जा रही है। इंस्पेक्टर ने बताया कि फुटेज से अन्य युवकों की पहचान की जाएगी।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.