समाचारविंध्य पहाड़ों पर खनन माफिया विभागीय अधिकारियों से ज्यादा है सक्रिय

विंध्य पहाड़ों पर खनन माफिया विभागीय अधिकारियों से ज्यादा है सक्रिय


मिर्जापुर,
बन विभाग इन दिनों चर्चा में है ।सूत्रों के मुताबिक क्षेत्र में अवैध खनन जोरों से चालू है। आरोप लगाया जा रहा है कि विंध्याचल सेक्शन और बरकक्षा सेक्शन में पहाड़ों पर वन माफिया की सक्रियता वन विभाग से ज्यादा हो गई है। नाम न छापने की शर्त पर लोगों ने कहा कि विभाग में कई ऐसे अधिकारी एवं कर्मचारी है जो कई वर्षों से एक ही जगह पर जिम्मेदारी निभा रहे हैं। सबसे ज्यादा आश्चर्यचकित करने वाली मामला तब प्रकाश में आया जब खनन माफिया और अधिकारियों के साथ की फोटो वायरल होने लगी। सर्वाधिक वन विभाग में खनन महुआरी कला में किए जाने की बात सार्वजनिक तौर पर सुनी जा सकती है। विंध्याचल थाना क्षेत्र में पड़ने वाली इस इलाके में जबरजस्त तरीके से खनन माफिया के द्वारा अवैध खनन करके कई रास्तों के नक्शे बदल दिए जाने की बात कही जाती है। कई पहाड़ों को बुरी तरीके से क्षतिग्रस्त करते हुए खनन माफियाओं द्वारा विंध्य पर्वत को भी नहीं छोड़ा गया है ।कभी कभार वन विभाग की सक्रियता एक चलते जब अवैध खनन करता के खिलाफ मुकदमा कायम होता है तो मुकदमा कायम करने के बाद भी जांच में लीपा पोती का आरो लगाया जाता रहा है। बताया जा रहा है कि आरोप है कि माफियाओं के खिलाफ पंजीकृत मुकदमे के बाद विभागीय जांच के पश्चात मिलीभगत के चलते कितने मूल्य का खनन किया गया है उसके वास्तविक रकम से कम आकलन दिखाया जाता है ।लोगों ने इस बड़ी घोटाले की जांच cbi से कराने की भी मांग दबी जुबान से कर रहे हैं। बरकक्षा पहाड़ियों पर भी माफियाओं की बुरी नजर इस कदर हावी हो चला है कि वन संपदा की लूट ज्यादा से ज्यादा लूटने की होड़ मची हुई है, लेकिन उसके बावजूद अपेक्षित कार्रवाई न होने की वजह से अपराधियों का हौसला सातवें आसमान पर देखा जा सकता है।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं