चौदह वर्ष से फरार पुरस्कार घोषित अपराधी गिरफ्तार– मीरजापुर

अरबिन्द सेन पुलिस अधीक्षक मीरजापुर को सूचना मिलने पर उनके नेतृत्व में वर्ष 2002 से फरार चल रहे पुरस्कार घोषित अपराधी रामधनी बिन्द अपने भाई शिवशंकर बिन्द उर्फ मौलवी नि0 टांडा फाल के यहाँ आने वाला है जिस पर पुलिस अधीक्षक ने क्राइम ब्रांच के प्रभारी विजय प्रताप सिंह व को0 देहात के प्रभारी निरीक्षक श्री शफीक अहमद को इस सूचना से अवगत कराकर गिरफ्तारी हेतु निर्देशित किया जिसपर आज दिनाँक 02.10.16 को 04.00 बजे सुबह दोनो टीमों द्वारा बीरपुर पहाडी के पास गाडाबन्दी करकर फरार व इनामिया अभियुक्त रामधनी बिन्द पुत्र स्व हीरालाल बिन्द निवासी बरौधा थाना को0 कटरा मीरजापुर को गिरफ्तार किया गया
ज्ञातव्य हो कि वर्ष 2002 में 21-22/12/2002 की रात एक ही परिवार के तीन व्यक्तियों की धारदार हथियार से नृशंग हत्या कर दी गयी थी । जिसमें मृतक 1.मनोज कुमार तिवारी (उम्र-21वर्ष )पुत्र गिरिजाशंकर तिवारी 2.प्रदीप कुमार (उम्र-19 वर्ष )पुत्र संतोष तिवारी 3.पिन्टू उर्फ संदीप कुमार तिवारी (उम्र-16 वर्ष) पुत्र संतोष तिवारी निवासीगण बरौधा थाना को0 कटरा मीरजापुर थे । जिसकी सूचना वादी हरिशंकर तिवारी पुत्र बद्री नरायण तिवारी नि0 बरौधा ने को0 कटरा में दिनांक 22.12.2002 को दी थी। जिसके आधार पर थाना को0 कटरा में मु0अ0सं0-896/2 धारा 302 भादवि विरूद्ध 1.मौलवी बिन्द उर्फ शिवशंकर बिन्द पुत्र स्व0 हीरालाल बिन्द नि0 बरौधा थाना को0 कटरा 2. बाबा बिन्द पुत्र मुन्नीलाल नि0 करनपुर थाना को0 देहात मीरजापुर 3. संतोष तिवारी पुत्र रामअवध तिवारी नि0 बरौधा कचार थाना को0 कटरा व 4. रामधनी बिन्द पुत्र स्व0 हीरालाल बिन्द उपरोक्त विवेचना से प्रकाश में आय़े। उपरोक्त अभियुक्तगण रामधनी बिन्द को छोडकर सभी अभियुक्तों की गिरफ्तारी उसी समय हो चुकी थी । घटना के समय से ही रामधनी बिन्द फरार चल रहा था। इतना ही नहीं इसने अपनी जमीन व मकान मुर्तुन चौबे को बेच कर फरार हो गया था। फरारी के दौरान ये अपना नाम पता बदलकर पहले वाराणसी पीली कोठी में करीब छः माह चौकीदारी किया फिर हरियाणा के पानीपत में छः माह रहकर दरी बिनने का काम किया । तदोपरान्त वहाँ से नयी मुम्बई कालमवोली में जाकर करीब दस वर्ष तक रहकर फल बेचने व चौकीदारी का काम करता रहा। वर्तमान में करीब तीन वर्षों से जनपद इलाहाबाद के खीरी थाना क्षेत्र के चैलारी गांव में अपना लालमणि पुत्र बुद्दु रखकर गांव में 12 बिषवा जमीन लेकर व मकान बनाकर रहने लगा था दिं 09.09.2008 तक गिरफ्तारी न होने पर दिं 10.09.2008 को पुलिस अधीक्षक मीरजापुर महोदय द्वारा इनकी गिरफ्तारी पर 5000 रू का पुरस्कार घोषित किया गया था ।
अपराधिक इतिहास
मु0अ0सं0 896/02 धारा 302 भादवि थाना को0 कटरा मीरजापुर
मु0अ0सं0 94/03 धारा 3(1) गैगेस्टर एक्ट थाना को0 कटरा मीरजापुर
गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम
शफीक अहमद प्रभारी निरीक्षक को0 देहात मय हमराही फोर्स
उ0नि0 श्री विजय प्रताप सिंह प्रभारी स्वाट क्राइम ब्रांच मीरजापुर मय हमराही फोर्स

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.